पणजी | पिछले कुछ दिनों से कश्मीर समस्या को लेकर खूब चर्चाये हो रही है. खासकर सोशल मीडिया पर आये एक विडियो की वजह से यह चर्चा और तेज हो गयी है. इस विडियो में देखा जा सकता है की कुछ कश्मीरी युवा CRPF के जवानों को पीट रहे है. लेकिन आधुनिक हथियारो से लेस होने के बावजूद सभी सैनिक बड़ा संयम बरतते है और चुपचाप सभी कुछ सहते रहते है.

इस विडियो के वायरल हो जाने के बाद पुरे देश में इसकी निंदा हो रही है. बॉलीवुड, राजनीती और खेल से जुड़े लोगो ने इस घटना की निंदा करते हुए इस पर कार्यवाही की मांग की है. इसी बीच गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री ने एक बयान देकर सबको चौंका दिया. उन्होंने रक्षा मंत्री का पद छोड़ने की वजह का खुलासा करते हुए कहा की कश्मीर जैसे मुद्दे के दबाव की वजह से मुझे यह पद छोड़ना पड़ा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कश्मीर में असमान्य हुए हालातो के बीच मनोहर परिकर ने कहा की केंद्र में कश्मीर और यहाँ वहां की तमाम समस्याए है. दिल्ली में एक समस्या नही होती. बहुत प्रेशर रहता है. इसलिए मैंने रक्षा मंत्री का पद छोड़ गोवा का मुख्यमंत्री बनना ज्यादा बेहतर समझा. कश्मीर समस्या के समाधान पर परिकर ने कहा की कश्मीर जैसे मुद्दों पर कम चर्चा और कार्यवाही की अधिक जरुरत है.

परिकर ने आगे कहा की जब मामले को सुलझाने के लिए चर्चा की जाती है तो मुद्दे और जटिल हो जाते है. हालाँकि परिकर , कश्मीर पर केंद्र की निति के बारे में कुछ भी बोलने से बचते दिखे लेकिन उन्होंने कहा की कश्मीर समस्या को सुलझाना आसान काम नही है इसलिए लिए दीर्घकालिक निति की जरुरत है. परिकर के बयान स्पष्ट है की वो कश्मीर पर सख्त कार्यवाही के पक्ष में थे लेकिन राजनितिक कारणों से वो ऐसा नही कर सके.

Loading...