Friday, January 28, 2022

रजा एकेडमी ने जाकिर नाईक के भाषणों पर प्रतिबंध लगाने की मांग

- Advertisement -

दुनिया भर में अपनी कट्टर वहाबी और सलफी विचारधारा को प्रचारित करने वालें मुंबई के जाकिर नायक को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए हमलें को अंजाम देने वालें रोहाना इब्ने इम्तियाज़ और निबरस इस्लाम जैसे आतंकियों द्वारा आदर्श बताये जानें पर सुन्नी मुस्लिम संगठन रजा एकेडमी ने जाकिर नायक पर प्रतिबंध लगाने की मांग की हैं.

रजा एकेडमी ने केंद्र और राज्य सरकार से मांग की है कि नाईक के संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन पर प्रतिबंध लगे. इसके साथ साथ नाईक के आतंकी कनेक्शन की जांच हो. नाईक के पास इतने पैसे कहां से आते हैं इसकी भी जांच होनी चाहिए.

आतंकियों का ज़ाकिर नायक से प्रभावित होने का यह पहला मामला नहीं हैं. इससे पहले भी कई ऐसे मामलें सामने आ चुके हैं जिसमे आतंकियों ने खुद को ज़ाकिर नायक से प्रभावित बताया था.  2009 में न्यूयोर्क के सबवे में फिदायीन हमले की साजिश रखने के आरोप में गिरफ्तार नजीबुल्ला जाजी के दोस्तों ने बताया कि वो काफी वक्त तक डॉ.नाईक की तकरीरों को टीवी पर देखता था.

2006 में मुंबई की लोकल ट्रेनों में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के मामले में आरोपी राहिल शेख भी डॉ.नाईक से प्रभावित था. 2007 में बैंगलोर का एक शख्स कफील अहमद ग्लासगो एयरपोर्ट को उडाने की कोशिश करते हुए घायल हो गया. जांच में पता चला कि जिन लोगों की बातों से वो प्रभावित था उनमें से डॉ.जाकिर नाईक भी एक थे.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles