ravish583
वरिष्ट पत्रकार रवीश कुमार
ravish583
वरिष्ट पत्रकार रवीश कुमार

नई दिल्ली । एनडीटीवी के पत्रकार रविश कुमार, आए दिन अपने फ़ेस्बुक पेज पर सामाजिक सरोकार के मुद्दे उठाते रहते है। इसी क्रम में उन्होंने मंगलवार को एक पोस्ट लिखी जिसमें उन्होंने बेरोज़गारी का मुद्दा उठाया। उन्होंने लिखा की मोदी सरकार ने हर साल दो करोड़ रोज़गार देने का वादा किया था लेकिन देश में बेरोज़गारी बढ़ रही है। रविश ने मोदी सरकार पर बेरोज़गारी के आँकड़े सार्वजनिक नही करने का भी आरोप लगाया।

उन्होंने लिखा,’ रोज़गार कम होने का कारण है कि निवेश बहुत कम हो रहा है। नए निवेश के प्रस्ताव गिरकर 8 ख़रब डॉलर पर आ गए हैं। दो साल पहले 15 ख़बर डॉलर हुआ करता था। अगर यही हाल रहा तो 2018 में भी उम्मीद नहीं की जा सकती है। 2018 के पहले सप्ताह में बेरोज़गारी की दर 5.7 प्रतिशत थी। पिछले 12 महीने में यह सबसे अधिक है।’

रविश आगे लिखते है,’ मोदी सरकार ने हर साल दो करोड़ रोज़गार देने का वादा किया था। सरकार के पास हर तरह के आंकड़े हैं मगर रोज़गार के आंकड़े कभी वह ट्वीट नहीं करती है। मंत्री और सांसद बीमार की तरह रोज़ किसी न किसी की जयंती, पुण्यतिथि ट्विट करते हैं, इसकी जगह अपने मंत्रालय में मौजूद अवसरों को ट्वीट करने लगे तो कितना अच्छा होता। युवाओं को भुलावे में रखने के लिए महापुरुषों को याद करने की नौटंकी चल रही है।’

इतने मुद्दे होने के बावजूद भाजपा क्यों चुनाव जीत रही है, इस पर उन्होंने लिखा,’ यह सही है कि बीजेपी हर चुनाव जीत लेती है। इसके लिए रोज़गार पर लेख लिखने वालों को गाली न दें, बल्कि वोट देने वालों का शुक्रिया अदा करें।’ पेट्रोल-डीज़ल के दामों में हो रही वृद्धि पर उन्होंने कहा की गुजरात चुनाव ख़त्म होते ही तेल के दाम बढ़ गए। लेकिन निराश न हो, जल्द ही चुनाव आने वाले है इसलिए सब बैलेन्स कर दिया जाएगा।

पढ़े पूरी पोस्ट 

 

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें