Sexual harassment case: godman's bail plea rejected

The court reserved the order on the bail plea of Asaramनाबालिग लड़कियों से बलात्कार और यौन शोषण जैसे संगीन मामलों में जोधपुर जेल में बंद हिन्दू धर्मगुरु आसाराम को बलात्कार के दुसरे मामलें में भी सुप्रीम कोर्ट से झटका मिला हैं. कोर्ट ने गुजरात बलात्कार मामले में भी आसाराम की ज़मानत अर्जी को ख़ारिज कर दिया.

कोर्ट ने कहा है कि गुजरात और राजस्थान मामले की सुनवाई रोजाना नहीं हो सकती. कोर्ट ने कहा कि पहले राजस्थान मामले की सुनवाई पूरी होगी उसके बाद गुजरात मामले की. कोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा कि अभी दो दिन पहले ही हमने एक और मामले में ज़मानत अर्जी खारिज की थी, तो अब कैसे ज़मानत दे सकते हैं. अगर ज़मानत दे भी दी जाए, तो भी वह जेल से बाहर नहीं आ सकते क्योंकि दूसरे मामले में वो जेल में ही बंद रहेंगे.

आसाराम की तरफ से दलील दी गई थी कि अभी तक गुजरात मामले में मुख्य गवाह के बयान को दर्ज नहीं किया गया है. जल्द से जल्द गवाहों के बयान दर्ज किए जाएं. लेकिन कोर्ट ने कहा कि पहले राजस्थान में सुनवाई पूरी होगी. उसके बाद गुजरात के मामले में ट्रायल शुरू किया जाएगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

याद रहें सोमवार को आसाराम के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश जे.एस. खेहर की बेंच ने झूठी मेडिकल रिपोर्ट देकर जमानत की अर्जी लगाने के लिए आसाराम के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया. साथ ही उस पर एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया.

इसके पहले राजस्थान सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि आसाराम बापू के वकीलों ने जमानत के मामले में जेल सुपरीटेंडेंट का फर्जी लेटर लगाया था.

Loading...