article-2328034-19e5e3dd000005dc-118_306x423

लखनऊ | मुलायम सिंह यादव के रामगोपाल और अखिलेश को पार्टी से बाहर निकालने के बाद अखिलेश समर्थक सडको पर उतर आये है. मुख्यमंत्री आवास के बाहर समर्थको की भारी भीड़ है. पुलिस प्रशासन को भीड़ नियंत्रित करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है. इसी बीच रामगोपाल यादव ने अपने निष्कासन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा की यह निष्कासन अवैध है. मैं अभी भी पार्टी का महासचिव हूँ.

रामगोपाल यादव ने कहा, ‘ मुझे नेता जी ने आज ही नोटिस भेजा था. मुझे जवाब देने का भी मौका नही दिया गया. बिना मेरा पक्ष जाने उन्हें मुझे पार्टी से निष्काषित कर दिया. ऐसा तो सुप्रीम कोर्ट में भी नही होता. ये कोर्ट से भी बड़े हो गए. मेरा निष्कासन अवैध है. नेता जी ने जो कार्यवाही की है वो पूरी तरह असंवैधानिक है’.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुलायम के अखिलेश का भविष्य बर्बाद करने के आरोप पर रामगोपाल ने कहा ,’ मुख्यमंत्री के भविष्य के साथ कौन खिलवाड़ कर रहा है यह पूरा प्रदेश जानता है. मैं उत्तर प्रदेश में सबसे कम आता हूँ. मैंने प्रशासनिक मामले में आज तक अखिलेश यादव को कोई सलाह नही दी और न ही मैंने आज तक किसी की सिफारिश की है. मुझे अपना काम कराने के लिए किसी सरकार की जरुरत है’.

मुलायम सिंह के रामगोपाल के पार्टी सम्मेलन बुलाने को अवैध बताने पर उन्होंने कहा की हमने जो अधिवेशन बुलाया है वो पूरी तरह से वैध है. अगर पार्टी अध्यक्ष ही असंवैधानिक काम कर रहे हो तो फिर पार्टी बचाने के लिए आपातकालीन अधिवेशन बुलाया जाता है और राष्ट्रिय महासचिव को यह अधिकार है.

सम्मलेन बुलाने के लिए समय नही देने पर रामगोपाल ने कहा की आपातकालीन अधिवेशन बुलाने के लिए समय नही दिया जाता. मैं समाजवादी पार्टी के सभी कार्यकर्ताओ से अपील करता हूँ की वो पार्टी को बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में सम्मलेन में पहुंचे. मैं आज भी पार्टी का महासचिव हूँ , और आगे भी रहूँगा.

बाकी उम्मीदवारों की जारी करने पर रामगोपाल ने कहा की बाकी उम्मीदवारों की सूचि भी जल्द ही आएगी . मुलायम पर वर करते हुए रामगोपाल ने कहा ,’ उन्हें खुद पार्टी के संविधान की जानकारी नही है. वो कहते है की रामगोपाल ने पार्टी के लिए क्या किया है. जब गैर यादवो की वोट चाहिए तो रामगोपाल यादव की याद आती है’.

रामगोपाल यादव ने आगे कहा की पिछले कुछ दिनों से पार्टी में संवैधानिक नही हो रहा है. बिना किसी कार्यकारिणी की बैठक बुलाये उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी गयी. असंवैधानिक कामो को रोकने के लिए मेरे पास समर्थको के पत्र आ रहे है. समर्थको की मांग को मानते हुए मैंने यह अधिवेशन बुलाया है. यह पार्टी को बचाने के लिए बुलाया है.

Loading...