Monday, November 29, 2021

राम का जन्म लाखों साल पहले हुआ तो कैसे सुनिश्चित हो कि कहां पर हुआ ?

- Advertisement -

नई दिल्ली – इलाहबाद हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस मार्केंडय काटजू अयोध्या विवाद को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होने सवाल उठाया कि आखिर कैसी सुनिश्चित किया जाये कि राम का जन्म कहाँ पर हुआ था ?

सोशल मीडिया साईट ट्वीटर पर एक के बाद कई ट्वीट करके कई सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि विष्णू पुराण के मुताबिक राम त्रेता युग में पैदा हुए, और अब यह कलयुग चल रहा है, यानी की 432000 साल पहले, अगर द्वापर और त्रेता युग को मिला लिया जाये तो यह 864000 होता है।

जस्टिस काट्जू ने कहा कि जब राम का जन्म लाखों साल पहले हुआ तो यह कैसा कहा जा सकता है कि राम का जन्म कहां हुआ ? उन्होंने कहा कि वाल्मीकि द्वारा लिखित रामायण के मुताबिक राम एक महान राजा थे, लेकिन वे भगवान नहीं थे। पूर्व जस्टिस ने सवाल किया कि तुलसी दास द्वारा रचयित रामचरित्रमानस के आधार पर राम को भगवा कैसे माना जा सकता है।

बता दें कि अयोध्या में राम जन्मभूमी और बाबरी मस्जिद का विवाद दो दशक से भी ज्यादा समय से जारी है। हिन्दू संगठनों का दावा है कि ये राम जन्म भूमि है। जिसके लिए बाबरी मस्जिद शहीद कर दी गई थी।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles