Friday, September 17, 2021

 

 

 

अयोध्या में बना दें राम मंदिर, शांति से रह सकेंगे मुसलमान: राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग

- Advertisement -
- Advertisement -

अयोध्या विवाद में अब राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की भी एंट्री हो गई है। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद गैयूरुल हसन रिजवी का कहना है कि विवादित स्थान पर राम मंदिर बनना चाहिए ताकि देश का मुसलमान ‘सुकून, सुरक्षा और सम्मान’ के साथ रह सके।

रिजवी ने कहा, ’14 नवंबर की बैठक में हम इस मसले पर चर्चा करेंगे। लेकिन यह मामला कोर्ट में है, इसलिए हम सिर्फ सुप्रीम कोर्ट से जल्द सुनवाई की गुहार ही लगा सकते हैं।’ उन्होंने कहा कि संगठन चाहते हैं कि मुसलमान विवादित स्थल पर मंदिर निर्माण में मदद करें और साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाए कि ऐसे विवाद भविष्य में फिर से नहीं उठें।

रिजवी ने कहा कि अयोध्या में मस्जिद का निर्माण या नमाज पढ़ा जाना संभव नहीं है। उस जगह का सौ करो़ड़ हिंदुओं के लिए भावनात्मक मूल्य है। इसलिएवह जमीन राम मंदिर के लिए हिंदुओं को सौंप दी जानी चाहिए ताकि मुसलमान सुकून, सुरक्षा और सम्मान के साथ रहे सकें और देश के विकास में बराबर की भागीदारी कर सकें।’’

रिजवी ने ‘भाषा’ के साथ बातचीत में कहा, ‘‘नेशनल माइनॉरिटी वेलफेयर आर्गनाइजेशन तथा कुछ अन्य संगठनों ने हमारे पास प्रतिवदेन देकर कहा है कि इस वक्त मुस्लिम समाज में डर का माहौल है और ऐसे में आयोग अयोध्या के मामले को लेकर पहल करे ताकि माहौल बेहतर हो सके।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इन संगठनों का कहना है कि मुस्लिम समाज राम मंदिर बनने दे तथा आगे यह भी सुनिश्चित किया जाए कि ऐसा कोई दूसरा कोई विवाद खड़ा नहीं होगा।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles