अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए चंदा जुटाने के लिए दिल्ली के हरियाणा भवन में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की और से कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमे कई लोगों ने मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि दी।

इस मौके पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की केंद्रीय कार्यकारिणी के सदस्य एवं मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयोजक इंद्रेश कुमार ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण सामाजिकता और समरसता के पहलुओं का समावेश है। उन्होने कहा कि भारत की खास पहचान उसकी एकता, अखंडता, तहजीब और भाईचारे में है। इसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए देश का मुस्लिम समाज भी एक भारत सशक्त भारत के लिए प्रतिबद्ध है।

इंद्रेश कुमार ने ये भी कहा कि भारत के करोड़ों मुसलमान के लिए यह कार्यक्रम रौशनी होगी। नये हिंदुस्तान को सजाने के लिए रास्ता होगा। कोई सच्चे मुसलमान को यह नहीं कह सकता कि वह हिंदुस्तानी नहीं है। आप सब हिंदुस्तानी थे, हिंदुस्तानी हैं और हिंदुस्तानी रहेंगे। अभी तक यह बताया गया कि हिंदू धर्म का अपमान करो तो मुसलिम वोट देगा।

उन्होने कहा, धर्म की खिलाफत करने पर ही वोट मिलता था जबकि यह भारत के मूल संविधान की आस्था व रूह को जख्मी करने वाला है। भारत को अब इसे खत्म कर देना चाहिए। हमारे मजहब में कई फिरके हैं। छुआछूत खत्म होना चाहिए। हिंसा खत्म होनी चाहिए। प्यार व भाईचारा होना चाहिए। हम भारत के 135 करोड़ लोग हैं।

नागरिकता संशोधन कानून पर कहा कि यह कानून दुनिया में नहीं है। इस कानून का मानवीय पक्ष भी है। हम दुनिया के किसी देश का गिरेबां पकड़ सकते हैं। सभी को जीने की सुविधा देंगे। नागरिकता छीनने का कानून नहीं बल्कि जिन पर जुल्म हो रहा है उनको नागरिकता देने वाला कानून है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano