Monday, June 14, 2021

 

 

 

राकेश टिकैत का बड़ा आरोप – दिल्ली की सीमा से किसानों को हटाने के लिए मोदी सरकार ने रची साजिश

- Advertisement -
- Advertisement -

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को देश की राजधानी दिल्ली की सीमाओं से हटाने के लिए मोदी सरकार पर साजिश रचने के आरोप लगाते हुए किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि प्रदर्शन कारी किसान किसी भी कीमत पर दिल्ली की सीमाओं से हटने वाले नहीं है।

टिकैत ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि केंद्र सरकार किसानों के आंदोलन को दिल्ली की सीमाओं से हटाकर हरियाणा के जींद स्थानांतरित चाहती है लेकिन किसान इस षड्यंत्र को सफल नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि किसान किसी भी कीमत पर दिल्ली की सीमाओं के प्रदर्शन स्थल से नहीं हटेंगे।

राकेश टिकैत ने किसानों की एक सभा को संबोधित करने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘केंद्र सरकार प्रदर्शन स्थल को दिल्ली की सीमाओं से हरियाणा के जींद में स्थानांतरित करना चाहती है। लेकिन हम उसके इस षड्यंत्र को सफल नहीं होने देंगे। हम किसी भी कीमत पर दिल्ली की सीमाओं से नहीं हटेंगे।’

इससे पहले टिकैत ने यह उम्मीद जताई है कि साल 2024 से पहले भारत सरकार मान जाएगी और इन तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लिया जाएगा। एएनआई से बात करते हुए किसान नेता राकेश टिकैत ने बुधवार को कहा कि 2022 में क्या असर होगा यह जनता चुनाव के आने पर बता देगी।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों का पैसा बकाया है। टिकैत ने कहा- मेरे हिसाब से कोरोना बड़ा है, लेकिन सरकार के हिसाब से कानून बड़े हैं। उन्होंने आगे कहा कि जनता सरकार को अपना जवाब देगी। टिकैत ने कहा कि गुजरात में किसी पार्टी की सरकार नहीं है, वहां पर पुलिस की सरकार है. इसी तरह उत्तर प्रदेश में भी पुलिस की सरकार होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles