Sunday, August 1, 2021

 

 

 

राजनाथ सिंह – मुसलमान जिगर का टुकड़ा, अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं सरकार

- Advertisement -
- Advertisement -

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत आगमन को लेकर कुछ ही घंटों का समय बचा है। इसी बीच केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान आया है। जिसमे उन्होने कहा कि मुसलमान जिगर का टुकड़ा है और सांप्रदायिक राजनीति का सवाल ही पैदा नहीं होता।

रक्षा मंत्री ने शनिवार को एक इंटरव्यू में कहा, जो हिंदुत्व की विचारधारा में विश्वास करते हैं, वे भी पहचान के आधार पर भेदभाव नहीं कर सकते, क्योंकि हिंदुत्व का मतलब ही ‘वसुधैव कुटुंबकम (दुनिया एक परिवार है)’ है। उन्होंने मेरठ और मेंगलुरु में अपनी दो मेगा रैलियों का जिक्र करते हुए कहा, ‘मैंने पहले भी अपनी मेरठ और मेंगलुरु की रैलियों में कहा है कि मुसलमान भारत का नागरिक और हमारा भाई है। वह हमारे जिगर का टुकड़ा है।’

उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार शुरू से ही आशंकाओं को दूर करने के प्रयास में लगी हुई है। यह डर मुस्लिम समुदाय में पहले से ही मौजूद था। राजनाथ ने कहा, ‘कुछ ताकतें हैं जो उन्हें गुमराह करने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन भाजपा इन परिस्थितियों में भारत के अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं जा सकती है।’ पीएम मोदी ने हमेशा ‘सबका साथ, सबका विकास’ का नारा दिया है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्रियों की हिरासत से जल्द रिहाई की प्रार्थना करते हैं। उम्मीद है कि वे कश्मीर में स्थिति सामान्य करने में मददगार साबित होंगे। तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, उनके बेटे उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती सहित दर्जनों नेता हिरासत में हैं।

बता दें कि राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप भारत दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष धार्मिक स्वतंत्रता का मुद्दा उठाएंगे।वहीं यूनाइटेड स्टेट्स कमीशन ऑन इंटरनेशनल रिलीजियस फ्रीडम (यूएससीआईआरएफ) ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को मुसलमानों के लिए भेदभावपूर्ण और पक्षपाती करार दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles