कश्मीर घाटी में लगातार 51 वें दिन भी अशांति जारी रहने के बीच गृह मंत्री ने भाजपा और सरकार के शीर्ष पदाधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा के बाद फैसला किया गया कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल 4 सितंबर को जम्मू-कश्मीर का दौरा करेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सरकार ने विभिन्न राजनीतिक पार्टियों से अपने प्रतिनिधियों का नाम बताने को कहा है जो प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगे. कश्मीर घाटी में शांति कायम करने के प्रयासों के तहत प्रतिनिधिमंडल के विभिन्न तबकों के लोगों और संगठनों से मिलने की उम्मीद है.

गौरतबल है कि अनंतनाग जिले में गत आठ जुलाई को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर बुरहान वानी और दो अन्य आतंकवादियों के मारे जाने की घटना के बाद से घाटी में लागू कर्फ्यू को पुलवामा और श्रीनगर के कुछ हिस्सों को छोड़कर 52 दिनों बाद हटा लिया गया हैं.