लखनऊ | उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनते ही प्रदेश पुलिस हरकत में आ गयी है. कानून व्यवस्था को सुचारू करने और अवैध बूचड़खानों पर योगी के रुख को देखते हुए प्रदेश पुलिस एक्शन मोड़ में है. खबर है की मुख्यमंत्री ने अफसरों से बैठकर कर उन्हें निर्देश दिया है की प्रदेश में पशु तस्करी रोकने के लिए अधिकार जीरो टोलेरेंस निति अपनाये और अगर जरुरत पड़े तो पुलिस की गश्त भी बढाई जाए.

मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री के आदेश से पहले ही पुलिस ने प्रदेश में चल रहे अवैध बूचड़खानों पर कार्यवाही करनी शुरू कर दी है. इलाहबाद के बाद कानपूर के कई बूचड़खानों को बंद करा दिया गया है. उधर खबर यह भी है की मेरठ में बसपा सरकार के पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी और पूर्व सांसद शहीद अख़लाक़ के स्लॉटर हाउसेस पर भी छापेमारी की गयी है.

उधर हाथरस से खबर आई है की यहाँ कुछ लोगो ने मीट और मछली की दूकानों पर आग लगा दी. हाथरस में मान्यवर कांशीराम कॉलोनी स्थित तीन मीट और मछली की दुकानों में मंगलवार रात अनजान लोगो ने आग लगा दी. दूकान मालिको के अनुसार दूकान में रखा मीट जलकर खाक हो गया जिससे उनका काफी नुक्सान हुआ है. मामले पर हाथरस के एसपी दिलीप कुमार श्रीवास्तव ने बताया की ऍफ़आईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है.

वही बुधवार को योगी आदित्यनाथ ने एनेक्सी पहुंचकर सरकारी अधिकारियो के दफ्तरों का जायजा लिया. इस दौरान दफ्तरों पर लगी पान और गुटखो की पीक से मुख्यमंत्री काफी नाराज दिखे. इसके बाद उन्होंने सभी सरकारी दफतरों में पान और गुटखा खाने पर बैन लगा दिया. मालूम हो की मुख्यमंत्री बनते ही योगी ने कहा था की उनका पूरा जोर स्वच्छता की और रहेगा. इसलिए उन्होंने सभी सरकारी दफ्तरों में सफाई का ध्यान रखने का भी निर्देश दिया था.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?