dlwn2iquiaaw0y8 1507

dlwn2iquiaaw0y8 1507

नई दिल्ली | दहेज़ प्रताड़ना से लेकर सेक्सुअल हैरशमेंट का आरोप झेल रही विवादित संत राधे माँ ने थाना विवाद पर चुप्पी तोड़ते हुए अपनी सफाई पेश की है. एक टीवी इंटरव्यू में उन्होंने कहा की मैं गलती से SHO की कुर्सी पर बैठ गयी. मेरी पुलिस की साख ख़राब करने की कोई मंशा नही थी. उधर पुलिस प्रशासन ने मामले में कार्यवाही करते हुए SHO समेत 6 पुलिसकर्मियों को ससपेंड कर दिया है.

टीवी न्यूज़ चैनल आज तक से बात करते हुए राधे माँ ने बताया की वो रामलीला देखने दिल्ली गयी थी. इस दौरान उन्हें टॉयलेट जाने की जरुरत पड़ी तो एक शख्स ने सलाह दी की पास में ही एक पुलिस स्टेशन है , आप वहां पर चले जाए. इसलिए मैं पुलिस स्टेशन चली गयी. राधे माँ के अनुसार वाशरूम से वापिस आने के बाद मैं वहां रखी कुर्सी पर बैठ गयी. तभी वहां पर SHO आ गए .

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राधे माँ ने बताया की SHO ने हाथ जोड़कर मुझसे कहा की माँ मेरी कुर्सी से उठ जाओ. इसके बाद मैं कुर्सी से उठ गयी. राधे माँ के अनुसार SHO उनको नही जानता था. हालाँकि राधे माँ के दावों में सच्चाई नजर नही आ रही. क्योकि जो तस्वीरे सामने आई है उनमे SHO संजय शर्मा , वर्दी के ऊपर लाल चुनरी डाले , हाथ जोड़े राधे माँ के सामने खड़े हुए है. अगर उनको राधे माँ से आग्रह ही करना था तो वर्दी के ऊपर चुनरी डालने की क्या जरुरत थी.

इसके अलावा तस्वीरो में संजय शर्मा की मुद्रा को देखने से कही नही लगता की वो राधे माँ को नही जानता था. वह एक भक्त की मुद्रा में राधे माँ के सामने हाथ जोड़े खड़े हुए है. बताते चले की गुरुवार को सोशल मीडिया पर एक तस्वीर सामने आई. इस तस्वीर में विवेक विहार थाने के SHO राधे माँ के सामने हाथ जोड़े खड़े हुए है और राधे माँ उनकी कुर्सी पर बैठी हुई है. तस्वीरे सामने आने के बाद संजय शर्मा को ससपेंड कर दिया गया.

Loading...