देश के वरिष्ठ पत्रकारों में से एक पुण्य प्रसून बाजपेयी अपने शो ‘मास्टर स्ट्रोक’ से मोदी सरकार की ना​कामियों और जनता से किए झूठे वादों का सच उजागर कर रहे थे। जिसके चलते अब उन्हे अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ गया है। साथ ही उनके शो ‘मास्टर स्ट्रोक’ को भी बंद कर दिया गया है।

पत्रकार स्वाति चतु​र्वेदी ने ट्वीट कर बताया है कि मास्टर स्ट्रोक के सूत्रधार और एंकर पुण्य प्रसून बाजपेयी ने एबीपी चैनल आज छोड़ दिया है। इससे ठीक एक दिन पहले चैनल के मैनेजिंग एडिटर मिलिंद खांडेकर ने चैनल को अलविदा कह दिया था। माना जा रहा है कि दोनों पत्रकारों की चैनल से विदाई मास्टर स्ट्रोक के कारण ही हुई है।

बता दें कि  प्रसून बाजपेयी लगातार तथ्यों के साथ ‘मास्टर स्ट्रोक’ में सरकार के बड़े—बड़े प्रचार और फर्जी विज्ञापन से सरकारी योजनाओं की चकाचौंध से दबाए गए झूठ को उजागर कर रहे थे। इस दौरान न केवल दर्शकों को मास्टर स्ट्रोक के समय एबीपी चैनल में तरह—तरह की समस्याएं देखने को मिल रही थीं।

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने बताया कि उन्होंने अपना इस्तीफा चैनल को सौंप दिया है। पुण्य प्रसून बाजपेयी ने माना कि उन्होने ‘मास्टर स्ट्रोक’ कार्यक्रम को बंद करने को लेकर अपना इस्तीफा दिया है। इससे पहले भी जनज्वार से एक बातचीत में उन्होंने साफ—साफ कहा था कि मास्टर स्ट्रोक को लेकर सरकार का दबाव बहुत ज्यादा है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano