जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार को बड़े आतंकी हममें ने पूरे भारत को झंझोर कर रख दिया. हर तरफ शहीद जवानों की बहादुरी को सलाम किया जा रहा है. इस हमले के बाद देश में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। हर तरफ भारत माता की जय और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लग रहे हैं. पाकिस्तान के खिलाफ लोगों का आक्रोश सड़क पर कैंडल मार्च के रूप में दिख रहा है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जहाँ हर तरह पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाज़ी और गुस्सा देखने को मिला वहीँ पुणे रूरल पुलिस ने पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने के आरोप में जूनियर टिकट कलेक्टर कुमार उपेंद्र बहादुर सिंह को गिरफ्तार किया है और इसे बेहद शर्मनाक करार दिया है.

Loading...

वें आपको बता दें कि पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था.  इस दौरान जूनियर टिकट कलेक्टर ने पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की. आरोपी पर आईपीसी की धारा 153(बी) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है और कलेक्टर अभी पुलिस की हिरासत में है.

कलेक्टर के इस बेहद शर्मनाक मामले पर रेलवे ने ऐक्शन लेते हुए जूनियर टिकट कलेक्टर कुमार उपेंद्र बहादुर सिंह को सस्पेंड कर दिया है. पुलवामा के लेथीपोरा इलाके में हुए हमले के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस ने साजिश के शक में दक्षिण कश्मीर के सात लोगों को हिरासत में लिया है इन संदिग्धों को हिरासत में लिए जाने के बाद एजेंसियों के अधिकारी इनसे पूछताछ कर रहे हैं.

इसके अलावा प्रारंभिक जांच में हमले की साजिश के पुलवामा के त्राल में रचे जाने की बात कही गई है। त्राल वही इलाका है, जहां साल 2016 में हिज्बुल के टॉप कमांडर बुरहान वानी को मार गिराया गया था

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें