Sunday, September 19, 2021

 

 

 

कश्मीर में मंत्री के काफिले पर हुआ पथराव, उपद्रवियों ने फूंके स्कूल और दूकाने

- Advertisement -
- Advertisement -

kashmir_stonepelting_story_647_070516060856

श्रीनगर | जैसे ही लगता है की कश्मीर में अब हालात सामान्य होने लगे है तभी कुछ ऐसा हो जाता है की घाटी फिर सुलग जाती है. बुरहान वाणी की मौत के बाद करीब तीन महीने चला उपद्रव अब धीरे धीरे खत्म होने लगा था लेकिन घाटी में मौजूद कुछ तत्व ऐसा नही चाहते. हर हफ्ते जुमे की नमाज के बाद कश्मीर के किसी न किसी हिस्से में उपद्रव होने की खबर मिल जाती है.

शनिवार को जुमे की नमाज के बाद , कश्मीर के अधिकांश हिस्सों से कर्फ्यू हटा लिया गया. कर्फ्यू हटते ही उपद्रवी फिर से सक्रीय हो गए. राज्य के एक मंत्री की गाडी पर पथराव किया गया और कई दुकाने एवं स्कूल फूंक दिए गए. सुरक्षाबलो ने उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और हवा में फायरिंग की.

शनिवार को घाटी से जैसे ही कर्फ्यू हटाया गया, उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा में उपद्रवियों ने ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अब्दुल हक़ खान के काफिले पर पथराव कर दिया. सुरक्षाबलो ने मंत्री को बचाने के लिए उपद्रवियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े. आधे घंटे की मसक्कत के बाद मंत्री जी को सुरक्षित निकाला जा सका.

वही दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम में उपद्रवियों ने एक स्कूल में आग लगा दी. इसके अलावा शोपिया में आठ दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया. हालांकि कुछ लोगो को कहना है की दुकानों में आग उपद्रवियों ने नही लगाई. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. यही नही जब पुलिस ने उपद्रवियों को गिरफ्तार करने के लिए घरो की तलाशी लेनी शुरू की तो लोगो ने उनका विरोध किया.

पूरी घाटी में जगह जगह हो रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान सुरक्षाबलो की विद्रोहियों से झड़प हुई.  बिजबिहाड़ा में प्रदर्शनकारियो की देश विरोधी रैली को सुरक्षाबलो ने रोकने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया. वही श्रीनगर में यासीन मालिक के समर्थको ने भी प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकरियो की मांग थी की यासीन मालिक को इलाज मुहैया कराया जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles