Thursday, August 5, 2021

 

 

 

कश्मीर को लेकर AMU में हुआ प्रदर्शन, चार कश्मीरी छात्रों को नोटिस

- Advertisement -
- Advertisement -

अलीगढ़. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 व धारा 35 ए हटाए जाने के विरोध में गुरुवार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कश्मीरी छात्रों ने भारत विरोधी मार्च निकालकर प्रदर्शन किया।

कश्मीरियों ने कहा कि, केंद्र सरकार ने जिस तरह से कार्य किया, वह गलत है। वहां के हालात बहुत खराब हैं, इस समय हमारी अपनों से बात नहीं हो पा रही है। डेमोक्रेसी में हर किसी को आजादी के साथ रहने का हक है, लेकिन इस सरकार ने आजादी पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है। हम चाहते हैं कि इंटरनेशनल लेवल पर यह मुद्दा उठना चाहिए, जिससे यह बात सामने आए कि, अनुच्छेद 370 व 35 ए क्यों हटाया गया?

एक छात्रा ने कहा कि कश्मीरी लोग जुल्म के शिकार हो रहे हैं। वहां लोकतंत्र व धर्मनिरपेक्षता का कत्ल किया जा रहा है। हरियाणा के मुख्यमंत्री हमारी मां व बहनों के लिए क्या बोल रहे हैं? अपने हक के लिए कश्मीर का ब’चा-ब’चा 70 साल से ढाल बना हुआ है। आजादी का जो ख्वाब देखा है, इंशाअल्लाह उसे हम पूरा करेंगे, तब जाकर दम लेंगे।

घाटी में फोन सेवा बहाल होने के बावजूद एक अन्य छात्रा ने कहा कि एक माह हो गया भाई-बहनों की आवाज तक नहीं सुनी है। कश्मीर का मसला वैसा ही है, जैसा 70 साल पहले था। जवाहर लाल नेहरू ने वादा किया था कि कश्मीरी अपना फैसला स्वयं करेंगे, ये पूरा किया जाए।

दूसरी और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय परिसर में प्रदर्शन करने वाले चार कश्मीरी छात्रों को प्रशासन ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।  एएमयू प्रॉक्टर अफीफुल्लाह खान ने चारों छात्रों को अलग-अलग नोटिस देकर पूछा है कि उन्होंने परिसर में अवैध रूप से प्रदर्शन का आयोजन क्यों किया।

बता दें कि पांच अगस्त को धारा 370 हटाने के फैसले का एक माह पूरा होने पर कश्मीरी छात्रों ने प्रदर्शन किया था। इससे पहले नौ अगस्त को भी प्रदर्शन कर चुके हैैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles