जामिया में छात्रा से मारपीट, यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन

11:23 am Published by:-Hindi News

द‍िल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया (JMI) में 9 द‍िनों से जारी छात्रों का अनशन ह‍िंसक हो गया है. अनशन कर रही छात्राओं के साथ कुछ लोगों ने बदतमीजी कर द‍ी. छात्राओं का न स‍िर्फ दुपट्टा खींचा गया बल्‍क‍ि धक्का-मुक्की भी की गई. इस सदमे की वजह से एक छात्रा अस्पताल पहुंच गई.

छात्राओं से दुर्व्यवहार व मारपीट के मामले में तीन छात्रों को दो हफ्ते के लिए सस्पेंड करते हुए उनके विश्वविद्यालय परिसर में आने पर भी रोक लगा दी है. उधर, कैंपस में विद्यार्थियों का धरना जारी है. इनकी मांग है कि जब तक विश्वविद्यालय प्रबंधन लिखित में उन्हें इस मामले में कार्रवाई का आश्वासन नहीं देता है, उनका विरोध जारी रहेगा.

बता दें कि 1 फरवरी से ही फाइन आर्ट के छात्र, एप्लाइड आर्ट्स विभाग के प्रमुख हफीज अहमद के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. छात्रों ने हाफिज अहमद पर यौन उत्पीड़न, छात्रों को डराने और क्षेत्रवाद का आरोप लगाया है. एचओडी ने कथित रूप से छात्रों को धरना प्रदर्शन के खिलाफ चेतावनी दी.

विश्वविद्यालय के आधिकारिक प्रवक्ता अहमद अजीम का कहना है कि छात्रों की शिकायतें पर विद्यालय प्रशासन का ध्यान है. जांच पूरी होने के बाद कार्रवाई की जाएगी. विभाग की छात्राओं ने हाफिज पर भद्दे कमेंट, व्यक्तिगत हमले और अनचाहे टेक्स्ट मैसेज भेजने का आरोप लगाया है.

जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष एनसाई बालाजी ने जामिया में विरोध धरने में शामिल छात्रों का साथ देने का ऐलान किया है. छात्रसंघ ने कहा कि छात्राओं की सुरक्षा व उनके अधिकारों की रक्षा करना हम सब छात्रों का कर्त्तव्य है. यदि जरूरत पड़ेगी तो जेएनयू छात्रसंघ जामिया कैंपस में जाकर विरोध दर्ज करवाएगा.

Loading...