सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने टीआरपी घोटाले से जुड़े रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami) के कथित व्हाट्सएप चैट की स्क्रीनशॉट को साझा करते हुए कार्रवाई की मांग की है। उन्होने अर्नब पर मीडिया और अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया।

उन्होने ट्वीट किया, ‘यह बार्क के सीईओ और अर्णब गोस्वामी के बीच हुए बातचीत के लीक स्नैपशॉट्स हैं। इन स्क्रीनशॉट से अर्णब गोस्वामी की राजनीतिक गलियारों में पहुंच और तमाम साजिशों का पता लगता है’। प्रशांत भूषण ने लिखा है, ये हैं अर्नब गोस्वामी और बार्क के सीईओ के बीच बातचीत के व्हाट्सएप चैट के कुछ स्क्रीनशॉट। इन स्क्रीनशॉट में कई षड़यंत्र देखे जा सकते हैं कि कैसे अर्नब गोस्वामी की सरकार में कितनी पैठ है। यह मीडिया का बेजा इस्तेमाल है। अर्नब मीडिया और अपना ताकत का इस्तेमाल ब्रोकर के तौर पर कर रहे हैं। अगर किसी भी देश में जहां कानून का राज है वहां अर्नब गोस्वामी जेल में होते।

प्रशांत भूषण के इस ट्वीट पर कमेंट करते हुए पत्रकार मीना दास नारायण ने लिखा, ‘और हम आपका भरोसा करें? क्या हमें आप एक भी वजह बता सकते हैं, ताकि आपकी बातों पर भरोसा किया जा सके?’

इस व्हाट्सएप्प चेट में अर्णब गोस्वामी और बार्क सीईओ के बीच बातचीत का दावा किया गया है। ये चेट करीब 500 पेज की है। जिसके सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। चैट में कथित तौर पर अर्नब गोस्वामी और पार्थो के बीच टीआरपी रेटिंग को लेकर बात हो रही है।