नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट के जाने माने वकील और पूर्व आप नेता प्रशांत भूषण का एक ट्वीट उनके लिए गले की हड्डी बनते जा रहा है. कृष्ण को ईव टीजर बताना उनके लिए इतना भारी पड़ा की पुरे देश में उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया. वृन्दावन, मथुरा और गोवर्धन में उनका पुतला तक फूंका गया. यही नही लखनऊ और दिल्ली में उनके खिलाफ थाने में शिकायत भी दर्ज कराई गयी है.

मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशांत भूषण ने माफ़ी मांगने में ही अपनी भलाई समझी. उन्होंने ट्वीट कर अपने बयान पर माफ़ी मांगते हुए लिखा की अंजाने में मुझसे कई लोगो की भावनाओं को ठेस पहुंची है, इसलिए मैं माफ़ी मांगता हूँ. हालाँकि उन्होंने सोमवार को भी अपने बयान पर सफाई दी थी. उन्होंने कहा था की मेरे ट्वीट को तोड़ मरोड़ कर पेश किया जा रहा है.

मंगलवार को प्रशांत भूषण ने ट्वीट कर कहा,’ मुझे अहसास हुआ है की रोमियो स्क्वाड और कृष्ण पर मेरे ट्वीट को अनुचित रूप में पेश किया गया और इससे अंजाने में कई लोगो की भावनाए आहत हुई है , इसके लिए मैं माफ़ी मांगता हूँ और इस ट्वीट को हटा रहा हूँ.’ फ़िलहाल प्रशांत भूषण ने माफ़ी मांग कर मामले को शांत करने की कोशिश की है लेकिन लगता नही इससे विवाद रुक पायेगा.

बताते चले की प्रशांत भूषण ने रविवार को एक ट्वीट कर पुरे देश में हलचल मचा दी. उन्होंने योगी आदित्यनाथ के एंटी रोमियो स्क्वाड की आलोचना करते हुए लिखा की रोमियो ने पूरी जिन्दगी एक महिला से प्रेम किया जबकि भगवान कृष्ण तो लिजेंड्री ईव टीजर थे. अगर योगी में हिम्मत है तो वो अपने मुस्तैद दस्ते का नाम एंटी कृष्ण स्क्वाड रखे. बाद में प्रशांत ने सफाई देते हुए कहा की जिस तरह एंटी रोमियो स्क्वाड के गठन के कारण बताये जा रहे है ऐसे में भगवान कृष्ण भी छेड़खानी करने वाले लगते है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?