Thursday, August 5, 2021

 

 

 

प्रसार भारती ने अमेरिकी रिपोर्टर को बताया “भारत विरोधी”, विदेश मंत्रालय को देनी पड़ी सफाई

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली दंगों को लेकर अंतराष्ट्रीय मीडिया में मोदी सरकार की कड़ी आलोचना हो रही है। ऐसे में नेशनल पब्लिक ब्रॉडकास्टर प्रसार भारती ने शुक्रवार को अपने आधिकारिक ट्विटर पेज से स्ट्रीट जर्नल के दक्षिण एशिया डिप्टी ब्यूरो चीफ को भारत विरोधी बता दिया। जिसके बाद विदेश मंत्रालय को इस मामले में सफाई देनी पड़ी।

दरअसल, प्रसार भारती ने ट्वीट किया कि एरिक बेलमेन को उनके ‘भारत विरोधी व्यवहार’ के चलते विदेश मंत्रालय ने अमेरिका में स्थित भारतीय दूतावास से अपील की है कि वह तुरंत एरिक बेलमेन को वापस अमेरिका बुलाने के मामले में कुछ करें। लेकिन कुछ देर बाद ही ये ट्वीट डिलीट कर दिया गया।

हालांकि बाद में भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि “एक व्यक्ति ने सरकारी प्लेटफॉर्म पर एरिक बेलमेन के खिलाफ एक ऑनलाइन शिकायत दर्ज करायी थी। इस शिकायत के आधार पर संबंधित अधिकारी को तय प्रक्रिया के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे, लेकिन भारत से भेजने संबंधी कोई निर्देश पर कोई फैसला नहीं लिया गया है।”

वहीं दूसरी और  प्रसार भारती के पत्रकारों ने अपने पूर्व सीईओ जवाहर सरकार के उस बयान के लिए उनकी निंदा की है, जिसमें उन्होंने राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता को ‘प्रचार भारती’ कहा था। पत्रकारों ने सरकार के इस कृत्य को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

प्रसार भारती के पत्रकारों ने गुरुवार को जारी एक बयान में कहा है, “दिल्ली हिंसा पर अंतर्राष्ट्रीय मीडिया की एकतरफा, भारत विरोधी भड़काऊं रिपोर्टिग के कारण प्रसार भारती के सीईओ शशिशेखर वेम्पति ने बीबीसी के एक निमंत्रण को ठुकरा दिया और उसे उसकी एकतरफा रिपोर्टिग की याद दिलाई थी, खासतौर से वर्दीधारी पुलिसकर्मियों के खिलाफ रिपोर्टिग पर उन्होंने आपत्ति जताई थी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles