जम्मू के सुंजवान आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले में शहीद मुस्लिमों सैनिकों की शहादत के मामले में मीडिया द्वारा किये गए भेदभाव को लेकर सवाल उठाना बंद नहीं हो रहे है.

इस मामले में अब मशहूर हिन्दू धर्म गुरु आचार्य प्रमोद कृष्णम ने भी सवाल उठाया है. उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि अगर किसी आतंकी हमले में मुस्लिम का हाथ सामने आ जाए तो मीडिया 24 घंटे यही खबर चलाता रहता है. लेकिन अगर मुसलमान देश के लिए अपनी जान देता है तो ये मीडिया के लिए कोई खबर नहीं होती.

आचार्य ने ट्वीट कर कहा है कि मुसलमान “आतंकवादी” हो,तो सारी “दुनियाँ” को “बताओ” और अगर “शहीद” होने वाला मुसलमान हो, तो सबसे छुपाओ. साथ ही उन्होंने भाजपा को भी फटकार लगाई है और कहा है कि शहीदों की “शहादत” पे “सियासत” करना, बीजेपी से सीखना चाहिये.

ध्यान रहे कि असदुद्दीन ओवैसी ने इस मामले में सबसे पहले मीडिया की भूमिका पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि “7 में से 5 लोग जो मारे गए हैं वो कश्मीरी मुसलमान थे. अब इस पर क्यों कुछ नहीं बोला जा रहा है. इससे सबक हासिल करना पड़ेगा उन लोगों को जो मुसलमानों की वफादारी पर शक करते हैं, जो उनको आज भी पाकिस्तानी कह रहे हैं. हम तो जान दे रहे हैं.”


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें