बाबा साहब के पोते ने कहा – सत्ता में आए तो चुनाव आयुक्त को भेज देंगे जेल

prakash ambedkar 630 630

भारिप बहुजन महासंघ (बीबीएम) के अध्यक्ष और भीमराव आंबेडकर के पोते प्रकाश आंबेडकर ने गुरुवार को कहा कि यदि उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो वह चुनाव आयोग के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

डॉक्‍टर भीमराव आंबेडकर के पोते प्रकाश आंबेडकर ने महाराष्‍ट्र के यवतमाल में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि चुनाव पक्षपातपूर्ण रवैया अपना रहा है। साथ ही उन्‍होंने चुनाव आयोग का हवाला देते हुए कहा कि वो कहते हैं सीआरपीएफ काफिले पर हुए पुलवामा आतंकी हमले पर बात नहीं करनी चाहिए, लेकिन वो इस मुद्दे पर बात करेंगे। हमें इसके लिए संविधान ने अधिकार दिया है, इसलिए हमें कोई रोक नहीं सकता।

इस बीच, महाराष्ट्र के यवतमाल जिले में एक रैली के दौरान प्रकाश के बयान पर संज्ञान लेते हुए राज्य चुनाव आयोग ने स्थानीय चुनाव अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है।

आंबेडकर ने गुरुवार को एक रैली में कहा था, ‘‘हमने अपने 40 जवान खो दिए (पुलवामा हमले में), लेकिन फिर भी चुप हैं। हमें कहा गया है कि पुलवामा हमले पर बात ना की जाए। ईसी हमें चुप कैसे करा सकता है? हमारे संविधान में हमें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता दी गई है। मैं भाजपाई नहीं हूं। अगर मैं सत्ता में आया तो, चुनाव आयोग को दो दिन के लिए जेल भेजूंगा।”

इस बयान पर सवाल किए जाने पर आंबेडकर ने कहा, ‘‘मैंने यह बात समान परिप्रेक्ष्य में की थी लेकिन मेरे चुनाव आयोग पर दिए बयान को ही मुद्दा बनाया गया।” बता दें कि प्रकाश आंबेडकर अपने राजनीतिक मोर्चे वंचित बहुजन आघाडी (वीबीए) के प्रत्याशी के तौर पर अकोला और शोलापुर दोनों संसदीय क्षेत्रों से आगामी लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे।

आंबेडकर ने हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी नीत ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के साथ गठबंधन कर दलितों और मुस्लिमों के एक सामाजिक गठबंधन बीवीए का गठन किया है।

विज्ञापन