daati maharaj website

अपनी ही शिष्या के साथ बलात्कार के आरोप मे फंसे दिल्ली के छतरपुर स्थित शनि धाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज उर्फ मदनलाल के खिलाफ दिल्ली पुलिस को इस मामले में अहम सबूत मिले हैं और अब क्राइम ब्रांच दाती महाराज का पोटेंसी टेस्ट करवा सकती है.

हालांकि दाती महाराज का दावा है कि वह नगा साधु हैं और जिस दिन यह घटना हुई उस दिन वह छत्‍तरपुर आश्रम में मौजूद नहीं थे। दुष्कर्म के आरोप को नकारते हुए दाती महाराजने कहा कि आरोप लगाने वाली उसकी बेटी के समान है। उससे वह दुष्कर्म के बारे में सोच ही नहीं सकता।

उसने बताया कि वह यौन संबंध बनाने के योग्य नहीं है। उसके जवाबों से पुलिस संतुष्ट नहीं दिखी। ऐसे मे पुलिस उसका पोटेंसी (पुरुषत्व) टेस्ट करा सकती है। दोबारा जांच में शामिल होने के लिए दाती महाराज को मंगलवार को बुलाया गया है। वहीं दाती महाराज से पूछताछ के बाद क्राइम ब्रांच अब सचिन जैन और नवीन गुप्ता को भी नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए बुला सकती है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

crime-news-uttara-pradesh-india-six-people-molest-minor-girl

बता दें कि दाती महाराज पर 25 साल की शिष्या ने रेप का आरोप लगाया है. दाती के खिलाफ पिछले हफ्ते दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में आईपीसी की धारा 376, 377, 354 और 34 के तहत केस दर्ज हुआ था।

पीड़िता ने कहा कि दाती महाराज ने रेप करने के बाद उसने जान से मामरने की धमकी देते हुए जुबान बंद रखने को कहा था। पीड़िता ने दावा किया कि वह अकेली नहीं है जिसके साथ दाती महाराज ने रेप किया है, बल्कि कई लड़कियां और भी है। जो दाती महाराज के द्वारा रेप और यौन शोषण की शिकार हुई हैं।

Loading...