आठ सालों में आबादी के मामले चीन को पीछे छोड़ देगा भारत: संयुक्त राष्ट्र

11:07 am Published by:-Hindi News

नई दिल्ली: भारत में जनसंख्या का स्तर तेजी से बढ़ता जा रहा है. 2027 के करीब चीन को पीछे छोड़ते हुए भारत दुनिया में सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला देश बन सकता है. इस मामले में संयुक्त राष्ट्र में अर्थव्यवस्था और सामाजिक मामलों के विभाग (यूएन-डीईएसए) ने सोमवार को एक रिपोर्ट जारी की.

रिपोर्ट के अनुसार, 2027 तक भारत की आबादी चीन से ज्यादा हो जाएगी. वर्तमान में भारत की जनसंख्या करीब 1.36 अरब और चीन 1.42 अरब है. रिपोर्ट में संभावना जताई गई है कि 2050 तक भारत 164 करोड़ जनसंख्या के साथ टॉप पर पहुंच जाएगा.

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि अगले 30 वर्षों में विश्व की जनसंख्या दो अरब तक बढ़ने की संभावना है. 2050 तक जनसंख्या के 7.7 अरब से बढ़कर 9.7 अरब तक पहुंच जाने का अनुमान है. इस अध्ययन के मुताबिक विश्व की जनसंख्या इस शताब्दी के अंत तक करीब 11 अरब तक पहुंच जाने की संभावना है.

वैश्विक जनसंख्या में जो वृद्धि होगी उसमें आधी से अधिक वृद्धि भारत, नाइजीरिया, पाकिस्तान, डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो, इथियोपिया, तंजानिया, इंडोनेशिया, मिस्र और अमेरिका में होने का अनुमान है. इन देशों में भारत में सबसे अधिक वृद्धि होगी.

रिपोर्ट के अनुसार 2010 के बाद से 27 देश ऐसे हैं जिनकी जनसंख्या में एक या इससे भी अधिक फीसदी की कमी आई है. यह गिरावट प्रजनन क्षमता के निम्न स्तर के कारण होती है. साल 2019 से 2050 तक 55 देशों और क्षेत्रों में आबादी में एक फीसदी या उससे अधिक की कमी आने का अनुमान है. इनमें से 26 की जनसंख्या में 10 फीसदी तक की कमी आ सकती है.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें