Complete 100 Candidate List of Bahujan Samaj Party (BSP) for Uttar Pradesh Election

बसपा सुप्रीमो मायावती की एक बार फिर से मुसीबत बढ़ गई है. सीबीआई ने उनके खिलाफ 21 चीनी मिलों की बिक्री को लेकर जांच शुरू कर दी है. उनके साथ मायावती के करीबी रहे और बसपा छोड़ चुके नसीमुद्दीन सिद्दिकी भी जांच के दायरे में है.

सीबीआई ने पूरे मामले को टेकओवर कर जांच शुरू कर दी है. सीबीआई ने बिक्री के दस्तावेजों की समीक्षा करनी शुरू कर दी है. मायावती पर जल्द ही मामले में एफआईआर भी दर्ज हो सकती है.

सीबीआई की जांच ऐसे समय में शुरू की जा रही है. जब मायावती ने हाल ही में आगामी 2019 के चुनावों को लेकर बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन करने की घोषणा की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एनडीटीवी को दिए एक विशेष साक्षात्कार में उन्होंने कहा, इस बात की घोषणा जल्द की जाएगी, जब दोनों पार्टियां सीट शेयरिंग के लिए बैठक करेंगी. यह पूछे जाने पर कि अखिलेश यादव के साथ गठबंधन की घोषणा कब की जाएगी, मायावती ने एनडीटीवी के प्रणय रॉय से कहा कि अभी लोकसभा चुनाव में समय है. जब चुनाव निकट आएगा है, तो दोनों पार्टियां सीटों को समायोजित करेंगे और फिर घोषणा करेंगे.

मायावती ने सपा-बसपा गठबंधन पर बोलते हुए कहा कि ‘धर्मनिरपेक्ष ताकतों के गठजोड़ से भाजपा और आरएसएस डर गई हैं. सांप्रदायिक ताकतें नहीं चाहतीं कि धर्मनिरपेक्ष ताकतें इकट्ठा हों और आगे बढ़ें.’

Loading...