दिल्ली पुलिस मेरे भाई को बदनाम न करे, मेरा भाई मानसिक रूप से अस्थिर नहीं: नजीब की बहन

5:43 pm Published by:-Hindi News

najib

पिछले 25 दिनों से लापता हुए जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र नजीब अहमद को दिल्ली पुलिस द्वारा मानसिक रूप से अस्थिर बताने पर नजीब अहमद की बहन सदफ ने कहा कि कृपा कर के नजीब को बदनाम न करें. वो अच्छा पढ़ने वाला छात्र था. जरूरत है कि दिल्ली पुलिस सही दिशा में काम करे.

सदफ ने आगे कहा कि “जो व्यक्ति एक प्रतिष्ठित संस्थान में अध्ययन कर रहा हो वो मानसिक रूप से अस्थिर कैसे हो सकता है. मैं निवेदन करती हूं कि नजीब को बदनाम न किया जाए. उन्हें नींद से जुड़ी परेशानी थी जो कि पढ़ाई का दबाव रहने की वजह से छात्रों में होती है. उन्हें और कोई परेशानी नहीं थी.”

वहीँ आम आदमी पार्टी (आप) नेता आशुतोष ने कहा कि जब राष्ट्रपति ने हस्तक्षेप किया, उसके बाद ही दिल्ली पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई की. आशुतोष ने दिल्ली पुलिस को निशाने पर लेते हुए कहा कि हम उसकी निंदा करते हैं जिसने नजीब की छवि यह कहकर खराब करने की कोशिश की कि वह ड्रग्स लेता थ.

गौरतलब रहें कि दिल्ली पुलिस ने कहा कि नजीब अहमद डिप्रेशन का शिकार था और 4 साल से नजीब का इलाज होली फैमिली अस्पताल में चल रहा था. पुलिस के मुताबिक ये बात परिवार ने उनसे छिपाई थी. पुलिस के मुताबिक जिस बीमारी का नजीब शिकार था. इसमें अक्सर लोग घर छोड़कर चले जाते हैं.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें