केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को अपना समर्थन देने  सिंधु बॉर्डर पहुंची शाहीन बाग वाली दादी और ऐक्टिविस्ट बिलकीस दादी को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इससे पहले उन्होंने खुद को किसान की बेटी बताकर आंदोलन में शामिल होने का ऐलान किया था।

उन्होंने कहा कि सरकार को हमारी बात सुननी चाहिए। बिलकीस दादी ने कहा कि हम किसानों की बेटियां हैं, हम आज किसानों के प्रोटेस्ट का समर्थन करने जाएंगे। हम अपनी आवाज उठाएंगे, सरकार को हमारी बात सुननी चाहिए।  उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को हल करने के लिए वो सरकार और किसानों से बात करेंगी।

बिलकीस नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग आंदोलन में धरना देकर सुर्खियों में आई थी। टाइम मैगज़िन ने 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में बिल्किस बानो का नाम शामिल किया था। इसके अलावा हाल ही में बीबीसी ने भी उन्हे 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल किया।

हाल ही में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना ने भी बिल्किस दादी का जिक्र कर विवाद को पैदा कर दिया था। कंगना ने एक ट्वीट को रिट्वीट किया था उसमें किसान प्रोटेस्ट में शामिल बुजुर्ग किसान दादी को शाहीन बाग की बिलकिस बानो बताया गया था। इसमें लिखा था कि दिहाड़ी के हिसाब से दादी से ये काम करवाया जाता है।

बिल्किस दादी के नाम से मशहूर बिल्किस बानो उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की रहने वाली हैं, लेकिन वे फिलहाल अपने बच्चों के साथ दिल्ली में रह रही हैं। उनके पति खेती मजदूरी किया करते थे जो अब इस दुनिया में नहीं हैं। उनके बारे में पत्रकार राणा अय्युब ने लिखा है कि ‘बिलकिस को मशहूर होना चाहिए ताकि दुनिया तानाशाही के खिलाफ संघर्ष की ताकत का एहसास करे।’

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano