Monday, June 14, 2021

 

 

 

डायल 100 पर फोन कर मांगी मदद तो पुलिस ने मुस्लिम युवक को बुरी तरह से पीटा

- Advertisement -
- Advertisement -

राजधानी दिल्ली में एक मुस्लिम युवक का डायल 100 पर फोन कर पुलिस से मदद मांगना एक बड़ा गुनाह हो गया। पुलिसकर्मियों ने मदद करने के बजाय युवक को बुरी तरह से पीट कर घायल कर दिया। अब युवक अस्पताल में भर्ती है।

जानकारी के अनुसार, दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर इलाके के रहने वाले 29 वर्षीय वसीम खान ने अपने पड़ोस में हो रही मारपीट को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस के 100 नंबर पर कॉल किया। पीड़ित का आरोप है कि इस वजह से उसके साथ पुलिसकर्मियों ने मारपीट की।

छतरपुर के चंदन हुल्ला निवासी खान के चाचा अहमद अली ने बताया कि 17 मई को करीब नौ बजे दो भाइयों के बीच लड़ाई हो रही थी। लड़ाई बढ़ने पर दोनों तरफ से पत्थरबाजी शुरू हो गई। इसी दौरान मैंने और कई लोगों ने पुलिस के 100 नंबर पर कॉल करने की कोशिश की।

इसके बाद पुलिस घटनास्थल पर करीब 10 बजे पहुंची और मामले को शांत कराया। इसी मामले को लेकर उसी रात करीब 11:30 बजे के करीब पुलिस वसीम खान को बतौर प्रत्यक्षदर्शी बयान देने के लिए पुलिस थाने ले गई। जहां पुलिस ने पहले उसका फोन छीना और तीन या चार पुलिसवालों ने एक अलग कमरे में पिटाई की।

पीड़ित ने द वायर से कहा, ‘उन्होंने मुझे लाठियों से पीटा. सब-इंस्पेक्टर सतेंदर गुलिया ने मुझे अपनी कोहनी से मारा और पीठ पर लाठी से मारते रहे। इसमें दो अन्य प्रवीन और जितेंदर थे, जिन्होंने मुझे उल्टा लटका दिया था।’ उन्होंने कहा कि इन पुलिसकर्मियों ने मुस्लिम विरोधी भी टिप्पणियां की। 

खान ने याद करते हुए बताया, ‘(गाली देते हुए) अब कॉल करेगा? करेगा कॉल 100 नबंर पर? तुम लोगों ने नाक में दम कर रखा है, मुल्लों सालों।’ वसीन खान ने कहा कि बाद में 2:30 रात में पुलिस ने उन्हें छोड़ा। खान की रीढ़ की हड्डी में काफी चोट आई है और फ्रैक्चर भी हुआ है। डॉक्टर ने उन्हें ऑपरेशन की सलाह दी है। 

फतेहपुर बेरी के एसएचओ कुलदीप सिंह ने इस पर टिप्पणी करने के इनकार कर दिया, वहीं दक्षिणी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) अतुल कुमार ठाकुर ने कहा कि ‘जांच चल रही है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles