Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

कविता में सीएए के विरोध करने पर कर्नाटक में कवि और संपादक गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

कर्नाटक के कोप्पल जिले में सीएए विरोधी कविता पढ़ने के मामले में एक कवि और एक पत्रकार को गिरफ्तार किया गया है। सिराज बिसरल्ली ने पिछले महीने अपनी कविता का पाठ किया था, जिसे सोशल मीडिया पर कन्नडनेट डॉट कॉम के संपादक राजाबक्सी एच. वी. ने पोस्ट किया गया था।

भाजपा युवा मोर्चा की शिकायत पर पुलिस ने IPC की धारा 505 के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज किया। जिसके बाद बिसरल्ली और राजाबक्सी ने मंगलवार को जिला अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। अदालत ने उनकी जमानत याचिका खारिज करते हुए उन्हें जांच के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया।

पुलिस के अनुसार, बिसरल्ली ने कन्नड़ जिले के गंगावती शहर में जिला प्रशासन के साथ के सहयोग से कन्नड़ और संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित एंगुंडी उत्सव के दौरान कविता का पाठ किया था। उसी कविता को 14 जनवरी को राजाबक्सी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था।

भाजपा युवा मोर्चा के जिला महासचिव शिवू अराकेरी 24 जनवरी को गंगावती ग्रामीण पुलिस स्टेशन में दोनों के खिलाफ शिकायत करने पुलिस के पास गए। अराकेरी की शिकायत के आधार पर दोनों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 505 के तहत मामला दर्ज किया गया।

उन्होंने कहा, वे इसके बाद फरार हो गए थे और मंगलवार को उन्होंने अदालत के समक्ष आत्मसमर्पण किया। इन दोनों ने अंतरिम जमानत मांगी थी। सरकारी वकील ने इसका विरोध करते हुए जांच के लिए उनकी पुलिस हिरासत की मांग की। इसके बाद अदालत ने बिसरल्ली और राजबक्सी को बुधवार दोपहर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया।

पुलिस ने कहा, हम नए सबूत सामने आने तक इसे शायद इसे (पुलिस हिरासत) आगे बढ़ाने की मांग ना करें। हमने उनके मोबाइल फोन जब्त कर लिए हैं ताकि पता लगाया जा सके कि उन्होंने किससे जानकारी साझा की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles