modi

modi

इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की मेज़बानी में व्यस्त पीएम नरेंद्र मोदी 10 फरवरी को फलस्तीन जाएंगे. ऐसा करने वाले वह भारत के पहले प्रधानमंत्री होंगे.

पीएम मोदी का ये दौरा ऐसे वक्त होने जा रहा है जब इजरायल और फिलिस्तीन के बीच रिश्ते ठीक नहीं चल रहे हैं. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी फिलिस्तीन से पहले ओमान और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) भी जाने वाले हैं. हालाँकि इस दौरान वे इजराइल नहीं जायेंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार,  मोदी जॉर्डन की राजधानी अम्मान से हेलीकॉप्टर से रामल्ला जाएंगे. रामल्लाह, येरुशलम से सिर्फ 8 किमी दूर है और यह फलस्तीन की वास्तविक प्रशासनिक राजधानी है.

ध्यान रहे पिछले साल इजरायल दौरे के बाद पीएम मोदी फिलिस्तीन नहीं गए थे. ऐसे में रमलल्ला में पॉलिसी और सर्वेक्षण अनुसंधान के लिए फलस्तीन केंद्र के निदेशक खलील शिककी ने भारत की और से फिलिस्तीन को नजरअंदाज करने की बात कही थी.

बता दें कि हाल ही में भारत ने यरुशलम मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका के विरोध में वोट दिया था. दरअसल अमेरिका ने यरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता दी थी, जिसका अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विरोध हो रहा था.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें