pm dargah

अजमेर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के खादिमों की दोनों संस्थाओं के प्रतिनिधियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बातचीत करेंगे।

दरगाह नाजिम आईबी पीरजादा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि मोदी खादिमों की संस्था अंजुमन सैयद जादगान एवं अंजुमन शेखजादगान के लोगों से बातचीत करेंगे। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में दरगाह दीवान आबेदीन और दरगाह कमेटी के सदस्य भी शामिल होंगे।

Loading...
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री दरगाह को आईकॉन बनाने और दरगाह विकास के संबंध में चर्चा करने के साथ ही खादिमों की समस्याओं के बारे में भी जानकारी लेंगे। इसके लिए दरगाह कमेटी ने दरगाह स्थित महफिलखाने पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कराने की व्यवस्था की है।
इसकी तैयारियों को लेकर मंगलवार को दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने खादिमों की दोनों संस्थाओं के प्रतिनिधियों से चर्चा की।  पठान ने बताया कि 15 सितंबर को सुबह 9.30 बजे से 11.30 बजे तक यह लाइव बातचीत होगी।
https://www.youtube.com/watch?v=SKVl19YV69g
पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय द्वारा दरगाह में कराए जा रहे कार्यों को लेकर यह बातचीत होगी। इसके लिए दरगाह में ही प्रोजेक्टर सिस्टम लगाया जाएगा। प्रोजेक्टर ऐसे स्थान पर लगाया जाएगा जहां से पृष्ठ में दरगाह शरीफ का गुंबद साफ दिखाई देगा।
प्रधानमंत्री की इस महत्वपूर्ण वीडियो कांफ्रेंसिंग को लेकर जिला कलेक्टर आरती डोगरा ने दरगाह का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। प्रधानमंत्री की वीडियो कांफ्रेसिंग की तिथि अभी तय नहीं की गई है। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने आईकॉन योजना के तहत देश के चुनिंदा 22 धार्मिक स्थलों मे अजमेर की दरगाह शरीफ को भी शामिल किया गया है।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें