Saturday, September 18, 2021

 

 

 

पीएम मोदी आज करेंगे नमक सत्‍याग्रह स्‍मारक राष्‍ट्र को समर्पि‍त, गांधीजी की पौत्रवधू नहीं होंगी शामिल

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: गांधी जी की पुण्यतिथि के मौके पर पीएम बुधवार (30 जनवरी) को नवसारी जिले के जालापोरा तहसील के दांडी गांव में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक का उद्घाटन करने वाले हैं। इस कार्यक्रम को लेकर गांधी जी की पौत्रवधू शिवलक्ष्मी गांधी (कनुभाई की पत्नी) को निमंत्रण दिया गया था। लेकिन उन्होने ठुकरा दिया।

जानकारी के अनुसार, शिवलक्ष्मी गांधी कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर पीएम मोदी से मिलने शर्त रख दी। शर्त पूरी न होने के चलते उन्होने निमंत्रण दिया। बता दें कि स्थानीय सांसद सीआर पाटिल शिवलक्ष्मी गांधी को निमंत्रण देने पहुंचे थे।

प्रधानमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार, अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्‍तार की आधारशिला रखेंगे. यहां 25,500 वर्ग मीटर से भी बड़े क्षेत्र में 354 करोड़ रुपये की लागत से टर्मिनल भवन का निर्माण किया जा रहा है। सौर ऊर्जा और एलईडी प्रकाश व्‍यवस्‍था के इस्‍तेमाल से यह एक पर्यावरण अनुकूल भवन होगा। इसका काम पूरा होने पर, 1800 से अधिक यात्रियों की आवाजाही की क्षमता हो जाएगी।

विमानों की आवाजाही और यात्रियों की संख्‍या दोनों ही रूपों में सूरत हवाईअड्डा वडोदरा एवं अहमदाबाद के बाद गुजरात का तीसरा सबसे अधिक व्‍यस्‍त हवाईअड्डा है। उल्लेखनीय है कि गुजरात में नागर विमानन के लिए आधारभूत सुविधाओं को मजबूत करने के साथ-साथ विमान सेवा का भी विस्‍तार किया गया है। उड़ान योजना के माध्‍यम से कांडला को मुम्‍बई से और पोरबंदर को अहमदाबाद और मुम्‍बई से जोड़ना इनमें शामिल हैं। प्रधानमंत्री सूरत में न्‍यू इंडिया यूथ कॉन्‍क्‍लेव में युवाओं के साथ बातचीत करेंगे। साथ ही वे श्रीमती रसीलाबेन सेवंतीलाल शाह वीनस अस्‍पताल का भी उद्घाटन करेंगे और वहां की सुविधाओं को भी देखेंगे।

प्रधानमंत्री का अगला गंतव्‍य गुजरात के नवसारी जिले में डांडी होगा। मोदी यहां बापू की पुण्‍यतिथि पर राष्‍ट्रीय नमक सत्‍याग्रह स्‍मारक राष्‍ट्र को समर्पि‍त करेंगे। इस स्‍मारक में महात्‍मा गांधी और ऐतिहासिक डांडी नमक यात्रा के दौरान उनके साथ शामिल 80 सत्‍याग्रहियों की मूर्तियां हैं। स्‍मारक में ऐतिहासिक 1930 की नमक यात्रा की विभिन्‍न घटनाओं और कहानियों को चित्रित करने वाले 24 भित्तिचित्र भी हैं। प्रधानमंत्री स्‍मारक को देखेंगे और एक जनसभा को संबोधित करेंगे।

नमक सत्‍याग्रह यात्रा को 1930 की डांडी यात्रा के नाम से अच्‍छी तरह जाना जाता है। भारत के स्‍वाधीनता आंदोलन के इतिहास में यह एक महत्‍वपूर्ण घटना है। यह प्रधानमंत्री का इस माह गुजरात का दूसरा दौरा होगा। प्रधानमंत्री मोदी ने इससे पहले 19 जनवरी, 2019 को सूरत का दौरा किया था, जब उन्‍होंने हजीरा में आर्मर्ड सिस्‍टम कॉप्‍लेक्‍स का लोकार्पण किया था। उन्‍होंने गुजरात के गांधीनगर में 17 और 18 जनवरी, 2019 को वाइब्रेंट गुजरात सम्‍मेलन में हिस्‍सा लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles