मानसून सत्र की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  गौरक्षकों के खिलाफ कारवाई का भरोसा दिया है. पीएम मोदी ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए.

प्रधानमंत्री ने गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों को सख्त चेतावनी जारी करराज्य सरकारों को भी ऐसे लोगों के विरुद्ध कड़े कदम उठाने की हिदायत दी गई है. उन्होंने कहा कि इस तरह की हिंसा को राजनीतिक लाभ के लिए सांप्रदायिक रंग देकर देश का भला नहीं किया जा सकता.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मोदी ने कहा, ‘कानून-व्यवस्था राज्य सरकार की अहम जिम्मेदारी है. इस बारे में एक अडवाइजरी भी राज्यों को भेजी जा चुकी है। जो ऐसी हरकतें कर रहे हैं… ऐसे अपराध कर रहे हैं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए. इसका राजनीतिक लाभ लेने की होड़ भी शुरू हुई है, लेकिन उससे देश को कोई लाभ नहीं होगा. सभी दलों को मिलकर इसे समाप्त करना होगा.

उन्होंने कहा, देश में यह भावना है कि गोमाता की रक्षा होनी चाहिए, लेकिन उसके लिए कानून है. कानून हाथ में लेना कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. सभी राज्य सरकारों को इसे लेकर कार्रवाई करनी चाहिए.’