netya

netya

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत के 6 दिवसीय दौरे पर पहुँच चुके है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर उनका एयरपोर्ट पर स्वागत किया.  नेतन्याहू के साथ उनकी पत्नी सारा भी भारतीय दौरे पर उनके साथ हैं.

14 साल बाद इजरायल के प्रधानमंत्री के रूप में दौरे पर आए नेतन्याहू के लिए पीएम ने हैशटैग शालोम-नमस्ते के टैग के साथ ट्वीट करते हुए कहा कि इजयारली पीएम के इस दौरे से दोनों देशों के रिश्ते मजबूत होंगे. गौरतलब है कि इससे पहले साल 2003 में इजरायल के तत्कालीन पीएम एरियल शेरोन आए थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तो वहीँ प्रोटोकॉल तोड़कर एयरपोर्ट पर रिसीव करने के लिए नेतन्याहू ने पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने ट्वीट किया ‘मेरे अच्छे दोस्त मोदी को शुक्रिया उन्होंने एयरपोर्ट पर मुझे रिसीव किया. हम दोनों एकसाथ मिलकर इजरायल और भारत के रिश्तों को और मजबूत करेंगे.’

बेंजामिन नेतन्याहू और पीएम मोदी तीन मूर्ति चौक भी पहुंचे, जहां उन्होंने हाइफा के शहीदों को श्रद्धांजलि दी. इसके साथ ही तीन मूर्ति चौक का नाम बदलकर तीन मूर्ति हाइफा चौक रख दिया गया.

ध्यान रहे तीन मूर्ति पर कांस्य की तीन मूर्तियां हैदराबाद, जोधपुर और मैसूर लैंसर का प्रतिनिधित्व करती हैं जो 15 इंपीरियल सर्विस कैवलरी ब्रिगेड का हिस्सा थे. ब्रिगेड ने प्रथम विश्व युद्ध के दौरान 23 सितंबर 1918 में हाइफा शहर पर हमला किया था और उसे जीत लिया था.