प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज से शुरू हो रहे संसद के बजट सत्र में तीन तलाक (Three divorce) विधेयक पारित कराने को लेकर विपक्षी दलों से सहयोग का आह्वान किया है.

PM मोदी ने आज यहां संसद भवन परिसर में कहा कि पिछले सत्र में सरकार का प्रयास और देश की आस्था तथा अपेक्षा थी कि तीन तलाक पर राजनीति नहीं होगी और मुस्लिम महिलाओं को उनका हक मिलेगा. लेकिन उच्चतम न्यायालय के आदेश के बावजूद सरकार तीन तलाक विधेयक पारित नहीं करवा सकी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि बजट सत्र के लिए सभी राजनीतिक दलों से उनकी अपेक्षा है कि वे तीन तलाक विधेयक पारित कराने में सहयोग करेंगे और मुस्लिम महिलाओं को नए साल का उपहार देंगे. उन्होंने कहा, बजट सत्र अत्यंत महत्वपूर्ण है यह बजट देश को नई ऊर्जा देने वाला तथा सामान्य से सामान्य लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करने वाला होगा.

बजट सत्र के बारे में पीएम मोदी ने कहा कि ये सत्र महत्वपूर्ण है, पूरा विश्व भारत की अर्थव्यवस्था के प्रति आशावान हैं. भारत की प्रगति पर दुनिया की सभी एजेंसियों ने मुहर लगाई है. मोदी ने कहा कि ये बजट देश की तेज गति से आगे बढ़ रही अर्थव्यवस्था को और भी ऊर्जा देगा.

उन्होंने कहा कि बजट के बाद अलग-अलग कमेटियों में इस पर चर्चा होगी. जिसमें विपक्ष कमियां बताएगा और सत्ता पक्ष तारीफ करेगा. बजट पर एक अच्छी बहस की उम्मीद है. हमने ऑल पार्टी मीटिंग में भी इस बात पर चर्चा की थी.