नई दिल्ली: दशहरे (Dussehra) के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया। उन्होने देशवासियों को एक बार फिर से दशहरे की बधाई दी।

पीएम मोदी ने कहा है कि दशहरा संकटों पर जीत का भी पर्व है। पीएम ने कहा कि दशहरा असत्य पर सत्य की जीत का पर्व तो है ही, साथ ही ये त्योहार संकटों पर जीत का भी उत्सव है। उन्होंने लोगों से कोरोना को लेकर सतर्कता बरतते हुए त्योहार मनाने की अपील की।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमें घर में एक दीया, भारत माता के इन वीर बेटे-बेटियों के सम्मान में भी जलाना है। मैं, अपने वीर जवानों से भी कहना चाहता हूँ कि आप भले ही सीमा पर हैं, लेकिन पूरा देश आपके साथ हैं, आपके लिए कामना कर रहा है।’

पीएम मोदी ने कहा, ‘पहले, दुर्गा पंडाल में, माँ के दर्शनों के लिए इतनी भीड़ जुट जाती थी – एकदम, मेले जैसा माहौल रहता था, लेकिन, इस बार ऐसा नही हो पाया । पहले, दशहरे पर भी बड़े-बड़े मेले लगते थे, लेकिन इस बार उनका स्वरुप भी अलग ही है।’

पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में खादी की लोकप्रियता पर ज़ोर दिया। उन्होंने कहा, “स्वास्थ्य की दृष्टि से ये बॉडी फ्रेंडली फैब्रिक है, हर मौसम  में पहना जाने वाला है और आज खादी फैशन स्टेटमेंट भी है। खादी की पॉपुलैरिटी तो बढ़ ही रही है। साथ ही, दुनिया में कई जगह, खादी बनाई भी जा रही है।”

इस संदर्भ में प्रधानमंत्री ने मेक्सिको के ओहाका का भी जिक्र किया है. उन्होंने बताया, “मेक्सिको में एक जगह है ‘ओहाका(Oaxaca)’. इस इलाके में कई गांव ऐसे है, जहां स्थानीय ग्रामीण, खादी बुनने का काम करते हैं। आज, यहां की खादी ‘ओहाका खादी’ के नाम से प्रसिद्ध हो चुकी है।”

उन्होंने आगे कहा, “शुरू में लोग खादी को लेकर संदेह में थे, पर, आखिरकार इसमें लोगों की दिलचस्पी बढ़ी और इसका बाजार तैयार हो गया।”

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano