mdd

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दिल्ली के लालकिले पर तिरंगा फहरा दिया है। यह पहला मौका होगा जब प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त के अलावा किसी अन्य मौके पर लाल किले पर तिरंगा फहराया। हाल ही में मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए इस कार्यक्रम का जिक्र किया था।

इस वीडियो में उन्होंने बताया था कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के ‘आज़ाद हिंद सरकार’ के गठन की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर वो 21 अक्तूबर को लाल क़िले पर झंडा फहराएंगे। पीएम मोदी ने दिल्‍ली के चाणक्‍यपुरी स्थित राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक का उद्घाटन भी किया। पुलिस स्‍मृति दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि भी दी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान पुलिस मुख्यालय में मोदी ने कहा कि जिस प्रकार आप सभी अपने कर्तव्य के पथ पर बिना रुके अटल रहते हैं। हर मौसम में, हर त्योहार में सेवा के लिए तैनात रहते हैं। कुछ यही भावना इस मेमोरियल को देखने से झलकती है। देश में डर और असुरक्षा का माहौल पैदा करने की अनेक साजिश को आपने नाकाम किया है। ऐसी साजिशें जिनकी जानकारी भी बाहर नहीं आ पाती। जिसके लिए आपको प्रशंसा भी नहीं मिलती। यह सिर्फ आपके सेवा भाव की वजह से ही संभव है। देश के नक्सल प्रभावित जिलों में जो जवान ड्यूटी पर तैनात हैं, उन्हें मैं यही कहूंगा कि आप बेहतरीन काम कर रहे हैं। अगर आज नक्सल प्रभावित इलाकों की संख्या कम हो रही है और वहां के युवा मुख्यधारा से जुड़ रहे हैं तो इसमें आपका अहम योगदान है।

मोदी ने अपने संबोधन में कहा था, ‘‘जिन नेताओं ने देश की सेवा की, भाजपा उन सबका सम्मान करती है। हमारी सरकार ने कई ऐसे महान लोगों का देश के प्रति योगदान याद किया जिसे कांग्रेस की सरकार ने कई सालों तक भुलाकर रखा था। कांग्रेस कई साल भीमराव अंबेडकर, सुभाष चंद्र बोस और सरदार वल्लभभाई पटेल के योगदान को नकारती रही।’’

Loading...