ravish583
वरिष्ट पत्रकार रवीश कुमार

ravish583

नई दिल्ली । फ़िलहाल पूरे देश में गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर एक रोमांच बना हुआ है। पीछले 22 सालों में  गुजरात में यह पहली बार है जब सत्ताधारी पार्टी भाजपा बैकफूट पर नज़र आ रही है। यह बात प्रधानमंत्री मोदी के भाषण भी साबित करते है। जिस गुजरात मॉडल को दिखाकर भाजपा ने 2014 लोकसभा चुनाव में जनता की वोट बटोरी, वही विकास मॉडल अब पीएम के भाषण से ग़ायब है।

इसकी जगह नीच, पाकिस्तान, अफ़ज़ल, निज़ामी, मंदिर-मस्जिद जैसे मुद्दों ने ले ली है। रविवार को मोदी जी एक क़दम आगे बढ़ गए और गुजरात की जनता को यह बताते हुए सनसनी फैला दी की कांग्रेस, हमारे दुश्मन देश पाकिस्तान से मिलकर उन्हें हराने की योजना बना रही है। इस दौरान उन्होंने एक बैठक का ज़िक्र किया और बताया की यह बैठक मणिशंकर अय्यर के घर पर हुई जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी भी शामिल हुए।

इसके अलावा उन्होंने यह भी आरोप लगाया की पाकिस्तान के रिटायर्ड आर्मी जनरल अरशद रफ़ीक इस बात की पैरवी कर रहे है की गुजरात में कांग्रेस नेता अहमद पटेल को मुख्यमंत्री बनाया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री के इन आरोपो पर सियासी घमासान मच चुका है। जहाँ कांग्रेस ने मोदी को इन आरोपो को साबित करने की चुनौती दी है वही एनडीटीवी के पत्रकार रविश कुमार ने आरोप लगाया है की मोदी जी मुसलमान के नाम पर गुजरात की जनता को डरा रहे है।

रविश कुमार ने अपने फ़ेस्बुक पेज पर एक पोस्ट लिख प्रधानमंत्री के भाषण की आलोचना की। उन्होंने लिखा ,’ प्रधानमंत्री अब गुजरात के सामने अहमद पटेल का भूत खड़ा कर रहे हैं। गुजरात की जनता को भय के भंवर में फंसा कर रखना चाहते हैं ताकि वह बुनियादी सवालों को छोड़ अहमद पटेल के नाम पर डर जाए। क्यों डरना चाहिए अहमद पटेल से? जबकि अहमद पटेल बार बार कह चुके हैं कि वे मुख्यमंत्री पद के दावेदार नहीं हैं, कांग्रेस ने भी ऐसा नहीं कहा है।’

रविश कुमार आगे लिखते है,’क्या प्रधानमंत्री गुजरात की जनता को मुसलमान के नाम पर डरा रहे हैं? यह प्रधानमंत्री की तरफ से खेला गया सांप्रदायिक कार्ड है। काश उन्हें कोई बताए कि भारत की जनता ने उनका हर शौक पूरा किया है, अब उसे सांप्रदायिकता की आग में न धकेलें। काश कोई उन्हें याद दिलाए कि आपने ही 15 अगस्त को 2022 तक सांप्रदायिकता मिटाने का भाषण दिया है। कोई संकल्प वंकल्प किया है।’

पढ़िए पूरी पोस्ट 

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें