मोदी सरकार के चार साल पुरे होने के मौके पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान कश्मीर के पत्थरबाजों को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पत्थरबाज को आतंकी नहीं कहा जा सकता.

एक आज तक टीवी चैनल पर राजनाथ ने कहा कि वह ये मानने को तैयार नहीं हैं कि पत्थरबाज, आतंकी होते हैं और उन्हें इस बात पर भी यकीन नहीं है कि कश्मीर और कश्मीरी भारत के दुश्मन हैं. राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि यदि कोई बच्चा पत्थरबाजी में लिप्त है तो हम उसे आतंकवादी नहीं करार दे सकते.

पत्थरबाजों के खिलाफ मुकदमें हटाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पत्थरबाजों के खिलाफ मुकदमें हटाने की मोदी सरकार की पॉलिसी के तहत सिर्फ पहली बार पत्थरबाजी करने वाले युवाओं को राहत दी गई है.

राजनाथ सिंह ने कहा कि बच्चे, बच्चे होते हैं. 12-15 साल के बच्चे आतंकी नहीं हो सकते. मैं फिलहाल ये मानने को तैयार नहीं हूं. रमजान के महीने के दौरान कश्मीर में सीजफायर करने के सरकार के फैसले पर राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर भी हमारा है और कश्मीरी भी हमारे अपने लोग हैं.

उन्होंने कहा, रमजान का महीना बहुत पवित्र महीना होता है इसलिए इस बात को ध्यान में रखते हुए कि रमजान के दौरान कश्मीर में शांति रहे और किसी कश्मीरी की एनकाउंटर के दौरान मौत ना हो, इसके लिए बहुत सोच-समझकर यह फैसला लिया गया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?