नई दिल्ली | मंगलवार को मशहूर सामाजिक कार्यकर्ता शबनम हाशमी ने अपना राष्ट्रिय अल्पसंख्यक अधिकार अवार्ड वापिस कर दिया. शबनम ने हाल ही में मुस्लिमो के ऊपर हुए हमलो से आहत होकर यह अवार्ड वापिस किया. इस दौरान उन्होने प्रधानमंत्री मोदी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा की मुस्लिमो पर हो रहे लगातार हमलो के बाद भी सरकार उदासीन और निष्क्रिय बनी बैठी है. मैं मोदी को अपना प्रतिनिधि नही मानती.

शबनम हाशमी के इस तरह अवार्ड वापिस करने से बीजेपी नेता उनसे काफी नाराज नजर आ रहे है. यही कारण है की उन्होंने शबनम पर तंज कसना भी शुरू कर दिया है. बीजेपी महिला मोर्चा की राष्ट्रिय कार्यकारिणी की सदस्य प्रीटी गाँधी ने ट्वीट कर शबनम पर निशाना साधा. उन्होंने कमेंट्री के अंदाज में लिखा , ‘ ये धमाके के साथ एक बार फिर वापस आया अवार्ड वापसी गैंग’.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्रीति ने आगे लिखा,’ इस बार इस गैंग का मुखिया कोई और नही शबनम हाशमी है.’ प्रीति के इस ट्वीट पर लोगो ने तुरंत प्रतिक्रिया देनी भी शुरू कर दी. सबसे पहले बीजेपी सांसद और अभिनेता परेश रावल ने उनके ट्वीट को शेयर करते हुए लिखा की आहा , ये है असली सस्पेक्ट. उनके अलावा एक यूजर ने शबनम को ट्रोल करते हुए लिखा की आप तब कहाँ थे जब आपके भाई और भतीजे कश्मीर में पुलिस और हिन्दुओ को मारते है.

एक अन्य यूजर ने लिखा की इन लोगो को अवार्ड के साथ साथ गाडी, ट्रेन टिकेट और अन्य सुविधाओ को भी वापिस कर देना चाहिए. इसके अलावा एक यूजर लिखता है की अब एक अवार्ड वापसी अवार्ड भी होना चाहिए. अगली बार अगली बार से सुर्खियों में यह होगा फलां-फलां ने वापस किया अवॉर्ड वापसी अवॉर्ड. एक ने लिखा अच्छा है ले लो इन निकम्मों से अवॉर्ड वापस और ऐसे लोगों को दो जो इन अवॉर्ड के असली हकदार है.

Loading...