सोमवार को जम्मू कश्मीर में पैलेट गन के इस्तेमाल मामले को लेकर हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को पैलेट गन का विकल्प खोजने के लिए दो सप्ताह का समय दिया हैं.

कोर्ट ने केंद्र सरकार को कहा कि वह जम्मू-कश्मीर में गुस्साई भीड को काबू करने के लिए पैलेट गन के बजाय किसी अन्य प्रभावी माध्यम पर गौर करें क्योंकि यहां बात जिंदगी और मौत से जुडी है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को कहा कि ऐसे किसी विकल्प को देखें जिससे दोनों पक्षो को नुकसान न पहुंचे. जैसे पैलेट की जगह पानी की बौछार में कुछ कैमिकल मिलाकर प्रदर्शनकारियों पर इस्तेमाल किया जा सकता है.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम ये जानते हैं कि यहां बैठकर कश्मीर के हालात का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता, लेकिन हम यह तय करना चाहते हैं कि सुरक्षा बलों को भी नुकसान ना पहुंचे लेकिन उसी समय अपने आपको बचाना, टीम को बचाना और सम्पति को बचाना भी होता है.

कश्मीर हाई कोर्ट बार असोसिएशन की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह निर्देश दिया है. कोर्ट ने 10 अप्रैल तक पेलेट गन्स के विकल्प के साथ फिर से पेश होने के लिए कहा हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?