भारत द्वारा वीजा जारी नहीं करने के कारण, पाकिस्तानी तीर्थयात्री इस साल हज़रत ख्वाजा निज़ामुद्दीन औलिया के उर्स में शिरकत नहीं कर पाएँगे. भारत ने सोमवार को दिल्ली में शुरू होने वाले हज़रत ख्वाजा निज़ामुद्दीन औलिया के उर्स में पाकिस्तान से आने वाले लोगों पर रोक लगा दी है.

शनिवार को विदेश कार्यालय द्वारा जारी किया गए एक बयान में, इस्लामाबाद से  नए साल के 1 से 8 जनवरी तक भारतीय राजधानी में आने वाले 192 पाकिस्तानी तीर्थयात्रियों की यात्रा के लिए आने वाले थे लेकिन नई दिल्ली द्वारा ने आखरी वक़्त पर फैसला लिया की किसी भी पाकिस्तानी तीर्थयात्री के लिया वीज़ा जारी नहीं किया जाएगा.

आपको बता दें कि यह यात्रा 1974 पाकिस्तान-भारत प्रोटोकॉल के प्रावधानों के तहत धार्मिक स्थलों की यात्रा नियमित रूप से हर साल की जाती है. लेकिन इस साल भारत ने पाकिस्तानी तीर्थयात्रियों के ख्वाजा निज़ामुद्दीन आने पर रोक लगा दी है.

वहीँ विदेश ऑफिस के प्रवक्ता का कहना है कि भारत के इस कदम से दोनों देशों के बीच माहौल और सामान्य संबंधों को सुधारने के प्रयासों का कम किया जा रहा है.उन्होंने यह भी कहा कि “हज़रत निजामुद्दीन औलिया का उर्स सभी समुदायों को एक दूसरे के करीब लाने का प्रतीक है.”

वैसे आपको बता दे कि धार्मिक महत्व के स्थानों का दौरा करने के लिए दोनों देशों के कई यात्रियों के लिए हर साल वीज़ा जारी जाता है और 1974 प्रोटोकॉल के अंतर्गत धार्मिक प्रयोजनों के लिए दोनों देशों के नागरिक भारत और पाकिस्तान में यात्रा कर सकते है.

 

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?