Thursday, January 27, 2022

करगिल में भी नहीं लगाई थी रोक लेकिन पाकिस्तान ने अब लिया ये बड़ा फैसला

- Advertisement -

भारत-पाकिस्‍तान के बीच बँटवारे के बाद से तीन जंग हो चुकी है। इसके बावजूद दोनों देशों के बीच कभी-भी डाक सेवा बंद नहीं हुई। लेकिन अब पाकिस्‍तान ने डाक सेवाएं भी बंद कर दी  है।

जानकारी के अनुसार, पिछले करीब डेढ़ महीने से भारत से जाने वाले कन्साइमेंट पर पाकिस्तान ने रोक लगा दी है। भारत की तरफ से आखिरी कन्साइनमेंट 27 अगस्त को गया था। भारत से डाक ना तो पाकिस्‍तान पहुंच रहीं, ना ही वहां से यहां आ पा रहीं।

डॉयरेक्‍टर ऑफ पोस्‍टल सर्विसेज के निदेशक आरवी चौधरी के मुताबिक, पाकिस्तान ने पहली बार ऐसा स्‍टैंड लिया है। उन्होने कहा, हमें नहीं पता कि कब यह आदेश वापस लिया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय कन्साइनमेंट के लिए देश में 28 विदेश डाक घर अधिसूचित किए गए हैं। इनमें से दिल्ली और मुंबई के डाकघर पाकिस्तान से आने वाले कन्साइनमेंट को देखते हैं। पाकिस्‍तान इंडिया पीपुल्‍स फोरम फॉर पीस के सदस्‍य जतिन देसाई ने द इंडियन एक्‍सप्रेस से कहा, “मुझे ऐसी कोई बात याद नहीं आती। 1965 की जंग और क‍रगिल युद्ध के समय भी पोस्‍टल कम्‍युनिकेशन बैन नहीं हुआ था।”

देसाई का कहना है कि आज जब कम्यूनिकेशन इंटरनेट की तरफ बढ़ गया है तो ऐसे समय में इस तरह के प्रतिबंध का कोई मतलब नहीं रहा गया है। हालांकि कई मामलों में सिर्फ डाक से ही सूचना जाती है। जैसे कोई भारतीय मछुआरा पकड़ा जाए तो उसके वकील को भेजी जाने वाली पावर ऑफ अटॉर्नी कूरियर नहीं की जा सकती। अदालतें ईमेल स्‍वीकार नहीं कर सकतीं।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles