bipin

देश के नए 27वें सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने पाकिस्तान और चीन को दो टूक संदेश देते हुए कहा है कि हमारा देश और सेना अमन और शांति चाहता है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि हम कमजोर हैं. उन्होंने आगे कहा, हमारी सेना पाकिस्तान और चीन से एक साथ जंग लड़ने के लिए तैयार है लेकिन चीन से टकराव की जगह सहयोग के रास्ते तलाशे जाने चाहिए.

एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि अगर हमारा दुश्मन टेरर को सपॉर्ट करे तो हमारी रणनीति साफ है, हम बल प्रयोग करेंगे. हम अपनी जरूरतों के हिसाब से इसका इस्तेमाल करेंगे. मुझे लगता है कि इसके लिए हमें सरकार ने फ्री हैंड दे रखा है. पाकिस्तान के नए आर्मी चीफ जनरल बाजवा के बारे में उन्होंने कहा कि हम दोनों एक-दूसरे की क्षमताओं को समझते हैं और इसी संदेश के साथ दोनों आगे बढ़ें तो शांति रहे.

जनरल रावत ने कहा कि हमें अपने हरेक फौजी पर गर्व है और वो किसी भी परिस्थिति से निपटने में सक्षम है. उन्होंने ये भी कहा कि हमें अपनी सेना को तकनीकी रूप से सक्षम करना है. हमारे देश में जितने भी हथियार हैं, उनमें मॉर्डन टेक्नोलॉजी को लाना बेहद जरूरी है.
जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी लगातर हमले के तरीके बदलते रहते हैं और अगर हमें इनको मुंहतोड़ देना है तो हमें इनसे एक कदम आगे रहना पड़ेगा. हमें ये सुनिश्चित करना होगा कि आतंकवादी क्या सोच रहे हैं, आगे क्या रणनीति बना रहे हैं. तभी हम आतंकवादियों को पूरी तरह परास्त कर पराएंगे.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें