राजस्थान के अलवर में एक अप्रैल 2017 को कथित गौरक्षा के नाम पर गौपालक पहलू खान की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में हत्या के आरोपियों को सीबीसीआईडी की जांच के बाद बरी कर दिया गया है। लेकीन वे अब बड़े ही गर्व के साथ अपने जुर्म का इकरार कर रहे है।

समाचार चैनल एनडीटीवी के स्टिंग ऑपरेशन में पहलू खान का हत्यारोपी विपिन यादव स्वीकार कर रहा है कि उसी ने पहलू को मारा था। पहलू बताया कि पहलू ख़ान को पीटने वालों में वो भी शामिल था। बल्कि उसने तो एक घंटे से भी अधिक समय तक उसे (पहूल खान को) मारा।

विपिन यादव ने स्टिंग ऑपरेशन में बताया कि वही था जिसने पहलू के ट्रक को रोका था और उसकी चाबियां छीनकर अपनी जेब में रख ली थीं। पहलू खान की मौत के मामले में नौ लोगों को आरोपी बनाया गया था लेकिन सबूत के अभाव में इन्हें छोड़ दिया गया।

cow

प्रॉसिक्यूशन के मुताबिक पुलिस ने आरोपियों की शिनाख़्त परेड भी नहीं कराई जो इस केस की सबसे बड़ी कमज़ोरी है।विपिन यादव ने अब बताया कि वो लोग पहले भी भाग गए थे। पुलिस ने ऐसे ही छह-सात लोगों को उठा लिया था। इस बीच, एनडीटीवी के खुलासे के बाद मंगलवार को हापुड़ लिंचिंग मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है।