अलीगढ | आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल प्रमुख असुदुद्दीन ओवैसी ने उत्तर प्रदेश चुनावो में अपने उम्मीदवार उतार कर, कुछ सीटों पर मुकाबला दिलचस्प कर दिया है. उत्तर प्रदेश के पहले चरण के चुनाव में ओवैसी ने 11 उम्मीदवार उतारे है. लगभग सभी सीट, मुस्लिम बहुल है इसलिए उन पार्टियों को नुक्सान उठाना पड़ सकता है जिन्होंने मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकेट दिया है. ओवैसी के मैदान में उतरने से , इन सभी सीटो पर मुस्लिम वोटो का धुर्विकरण हो सकता है.

अलीगढ में अपने उम्मीदवार के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए ओवैसी ने केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की अखिलेश सरकार पर जमकर निशाना साधा. ओवैसी ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा अबू धाबी के युवराज का जोरदार तरीके से स्वागत करने पर सवाल उठाते हुए कहा की हम अपने मेहमानों का स्वागत करते है और प्रिंस का भी उतने ही जोरदार तरीके से स्वागत होना चाहिए, लेकिन लगता है की मोदी जी सुबह में योग करना भूल गए क्योकि जब वो शाम को युवराज से मिले तो ऐसा लगा की वो स्वागत करते हुए योग कर रहे है.

ओवैसी ने मोदी पर मुस्लिमो से भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए कहा की मोदी जी , अगर आप के दिल में बाहर से आये दाढ़ी वाले के लिए इतना प्यार हो सकता है तो भारत के दाढ़ी वालो के लिए भी इतना ही प्यार दिखाये. इस दौरान ओवैसी ने मोदी की नक़ल करते हुए ‘मित्रो’ शब्द का भी इस्तेमाल किया. नोट बंदी पर मोदी सरकार के आंकड़ो पर ओवैसी ने सवाल उठाते हुए कहा की वो कैसी कह रहे है की नोट बंदी के अच्छे परिणाम रहे जबकि एक रूपए भी कालाधन वापिस नही आया.

ओवैसी ने नोट बंदी के कारण हुई 120 मौतों पर भी मोदी से सवाल किया. उन्होंने कहा की इन मौतों पर आपने एक शब्द भी नही कहा. इन पर आपको क्या कहना है. समाजवादी परिवार को ड्रामेबाज कंपनी बताते हुए ओवैसी ने कहा की प्रदेश में केवल समाजवादी परिवार का विकास हो रहा है. बड़े मियां छोटे मिया दोनों मिलकर उत्तर प्रदेश की जनता को विकास के नाम पर बहला रहे है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें