रवीश कुमार, वरिष्ट पत्रकार
रवीश कुमार, वरिष्ट पत्रकार

नई दिल्ली । एनडीटीवी के मशहूर पत्रकार रविश कुमार ने फेंक न्यूज़ को लोकतंत्र के लिए ख़तरा क़रार दिया है। उन्होंने एक फ़ेस्बुक पोस्ट के ज़रिए बताया की फ़्रान्स में फेंक न्यूज़ के ऊपर एक क़ानून लाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने लोगों से वादा किया है की देश के चुनावी अभियानो में फेंक न्यूज़ पर रोक लगायी जाएगी। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर भी निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि किसी भी देश के लोकतंत्र को फेंक न्यूज़ से ख़तरा है लेकिन हमारे देश के प्रधानमंत्री तो चुनावी भाषण में फेंक न्यूज़ का इस्तेमाल करते है। रविश ने बताया कि इन फेंक न्यूज़ के ख़िलाफ़ कोई भी सघन तरीक़े से लड़ाई नही लड़ रहा है। उन्होंने एक वेब्सायट, आल्टन्यूज़ का ज़िक्र करते हुए कहा की केवल यह वेब्सायट फेंक न्यूज़ के ख़िलाफ़ लड़ाई लड़ रही है।

देश में बढ़ते प्रदूषण और कारो की संख्या पर रविश ने लिखा की सिंगापुर में फरवरी 2018 से अगले दो साल तक कार ख़रीदने पर रोक लगा दी गयी है। उन्होंने लिखा,’ वहां की सरकार ने कार ख़रीद पर तरह तरह के प्रतिबंध लगाकर 0.25 प्रतिशत तक ला दिया था जिसे अब शून्य किया जा रहा है। 2000 से सिंगापुर की आबादी में 40 फीसदी वृद्धि हुई है। 6 लाख कारें हो गई हैं। सरकार का कहना है कि अब और जगह नहीं बची है।’

पानी के बेवजह इस्तेमाल पर रविश कुमार ने दक्षिण अफ़्रीका सरकार का उदाहरण दिया। उन्होंने लिखा,’ केप टाउन के प्रशासन ने लोगों से कहा है कि जब ज़रूरत हो तभी फ्लश करें। तीन बार फ्लश करने से 27 लीटर पानी ख़र्च हो जाता है। कहा जा रहा है कि एक बार ही हाथ और चेहरा धोएं। बर्तन दिन में एक बार ही धोएं। यहां तक कि यह भी सुझाव दिया जा रहा है कि हर दिन दो लीटर की जगह पौने दो लीटर ही पानी पीने की कोशिश करें।’

पढ़े उनकी पूरी पोस्ट  

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?