taj

आगरा: भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने ताजमहल के गेट पर एक नोटिस लगया है। इस नोटिस में कहा गया है कि केवल शुक्रवार को ही ताजमहल में लोग नमाज अदा कर सकते हैं। यह नोटिस भारत सरकार ने काफी पहले जारी किया था।

ताजमहल में शुक्रवार के अलावा अन्य दिनों में भी नमाज अदा करने की अनुमति दिए जाने की मांग होती रही है। लेकिन पुरातत्व विभाग ने इस पर रोक लगा दी है। पुरातत्व विभाग अब शुक्रवार के दिन ही ताजमहल में नमाज अदा करने की अनुमति दे रहा है।

इस संबंध में ताजमहल प्रभारी अंकित नामदेव ने बताया कि स्मारक के पश्चिमी गेट पर एक नोटिफिकेशन लगाया था जिसमें स्पष्ट रूप से लिखा था कि स्मारक की मस्जिद में नमाज शुक्रवार को दोपहर 12 बजे से दो बजे तक अदा की जायेगी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब इस विवाद में बजरंग दल भी कूद पड़ा है और ऐलान किया है कि वह भी ताजमहल परिसर में पूजा-पाठ करेगा।बजरंग दल से जुड़े गोविंद परासर ने कहा कि जब उन लोगों ने ताजमहल में आरती की मांग की थी उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी गई थी। अब कैसे लोग नमाज पढ़ रहे हैं। इसलिए हम भी अब पूजा करेंगे।

दूसरी और एएसआई के अधिकारी शुक्रवार को ताज के पश्चिमी गेट स्थित मंदिर जाने वाले रास्ते पर गेट लगवाने पहुंचे। उनके साथ कार्यस्थल पर दस्ते ने काम शुरु किया तो इसकी भनक ​हिंदूवादी संगठन को लग गई। इसके बाद बड़ी संख्या में एकत्रित हो संगठन के लोग विरोध जताने पहुंच गए। एक झड़प के बाद काम को अनिश्चितकाल के लिए रोकना पड़ा।

इस मामले पर एडीएम सिटी के. पी. सिंह का कहना है कि नियमानुसार जो भी कार्यवाही है, वह अमल में लायी जाएगी। बता दें कि, ताजमहल के पश्चिमी गेट पर बनाये जा रहे इस गेट को लेकर पहले भी विरोध होता रहा है। बहरहाल, काम स्थिगित हो गया है, लेकिन एएसआई कह चुका है कि गेट तो लगाएंगे ही।

Loading...