arun-jaitley_650x400_51445882063

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को नोटबंदी को लेकर कहा कि नोटबंदी का प्रभाव उतना प्रतिकूल नहीं है, जैसा कहा जा रहा था. उन्होंने देश को आश्वस्त किया कि भारतीय अर्थव्यवस्था सुरक्षित है और घबराने की कोई जरूरत नहीं है.

गुरूवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वित्तमंत्री ने कहा-रिजर्व बैंक के पास पर्याप्त मात्रा में नोट उपलब्ध हैं. मुद्रा का बडा हिस्सा बदला जा चुका है व 500 रूपये के और नए नोट जारी किए जा रहे हैं. आरबीआइ के पास पर्याप्त नकदी है और 500 के नोट अच्छी संख्या में बाजार में सरकुलेट हो गयी हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अरुण जेटली ने कहा कि नये नोट जारी करने का काम काफी आगे बढ़ चुका है, कहीं से अशांति की कोई खबर नहीं हैं. उन्होंने आगे जानकारी देते हुए कहा कि 19 दिसंबर तक प्रत्यक्ष कर संग्रह में 14.4 प्रतिशत, अप्रत्यक्ष कर संग्रहण में 26.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई. केंद्रीय उत्पाद शुल्क की वसूली की वृद्धि 43.3 प्रतिशत तथा सीमा शुल्क वसूली की वृद्धि 6 प्रतिशत हुई.

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि रबी की बुवाई पिछले साल से 6.3 प्रतिशत अधिक हुई है. उन्होंने कहा है कि जीवन बीमा क्षेत्र का कारोबार बढ़ा है. पेट्रोलियम उपभोग में वृद्धि हुई है. इसी तरह पर्यटन उद्योग और म्युचुअल फंड योजनाओं में निवेश में भी वृद्धि हुई है.

Loading...